तिमाही नतीजों के बाद TCS का शुद्ध लाभ 23% बढ़कर 7340 करोड़ रुपये हुआ

 TCS का तिमाही नतीजों के बाद शेयर लाभ 23% बढ़ा

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) का शेयर बुधवार को 6% से भी ज्यादा तेजी के साथ अब तक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया. इसने BSE पर 1,995 और NSE पर 1,998 का उच्च स्तर छुआ. कारोबार खत्म होने पर BSE पर शेयर 5.47% ऊपर 1979.60 रुपए पर बंद हुआ. NSE पर 5.06% तेजी के साथ 1,970 पर क्लोजिंग हुई. कंपनी का मार्केट कैप एक ही दिन में करीब 34,000 करोड़ रुपए बढ़कर 7.58 लाख करोड़ रुपए हो गया. टीसीएस देश की सबसे ज्यादा मार्केट कैप वाली कंपनी है. रिलायंस इंडस्ट्रीज 6.54 लाख करोड़ के साथ दूसरे नंबर पर है.

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज ने मंगलवार को अप्रैल-जून तिमाही के वित्तीय नतीजे घोषित किए. कंपनी का सालाना मुनाफा 23.46% बढ़कर 7,340 करोड़ रुपए हो गया. रेवेन्यू 16% बढ़कर 34,261 करोड़ रुपए रहा. दोनों में हाल के वर्षों में ग्रोथ सबसे ज्यादा है. कंपनी के सीईओ और एमडी राजेश गोपीनाथन ने इसकी वजह बताते हुए कहा कि बैंकिंग वर्टिकल में अच्छी रिकवरी हुई है. इसके साथ दूसरे इंडस्ट्री वर्टिकल में भी ग्रोथ बरकरार रही. अप्रैल-जून 2017 में रेवेन्यू 29,584 करोड़ और मुनाफा 5,945 करोड़ रुपए था.

टीसीएस का शेयर 2018 के छह महीने में निवेशकों को 48% रिटर्न दे चुका है. 29 दिसंबर 2017 को शेयर 1,350.2 रुपए पर था. अब यह 1,991 रुपए पर पहुंच गया है. टीसीएस को एक्सपोर्ट से जुड़ा कारोबार होने की वजह से रुपए में गिरावट का फायदा हुआ. सेंसेक्स में सम्मिलित कंपनियों की तुलना में इसके शेयर का प्रदर्शन इस साल सबसे अच्छा रहा.

टीसीएस ने पिछली बार 19 अप्रैल को आंकड़ों का ऐलान किया था. अगले दो कारोबारी दिनों में इसके शेयर में तेजी आई. 23 अप्रैल को कंपनी का मार्केट कैप 100 अरब डॉलर (6.60 लाख करोड़ रुपए) पहुंच गया. टीसीएस ये मुकाम उपलब्ध करने वाली देश की पहली आईटी कंपनी बनी. हालांकि, ऊपरी स्तरों से बिकवाली की वजह से उस दिन शेयर बाजार बंद होने पर इसका मार्केट कैप 100 अरब डॉलर से नीचे आ गया. कुछ दिन बाद ही कंपनी ने ना सिर्फ इतना ही मार्केट कैप हासिल कर लिया, बल्कि नए रिकॉर्ड बनाए.

loading...