•  जेडीयू-बीजेपी के सीट बंटवारे को लेकर आज अमित शाह और नीतीश के बीच होगी डील

    जेडीयू-बीजेपी के सीट बंटवारे को लेकर आज अमित शाह और नीतीश के बीच होगी डील

    बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह 'संपर्क फॉर समर्थन' अभियान के जरिए अपने सहयोगियों से मुलाकात कर रहे हैं. अमित शाह आज चंडीगढ़ में अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल से मिलने के बाद पटना जाएंगे. पटना के ज्ञान भवन में प्रस्तावित NDA के दलों की बैठक में शाह सीटों को लेकर कोई फार्मूला निकालेंगे. वैसे बैठक से एक दिन पहले जहां JDU ने कहा है कि वे बिहार में बड़े भाई की भूमिका में हैं और 25 सीटों पर उसका दावा रहा है, तो दूसरी ओर लोजपा और रालोसपा जैसे दल साफ तौर पर कह रहे हैं कि वो अपनी सीट किसी भी कीमत पर नहीं छोड़ेंगे. ऐसे में सवाल उठता है कि लोकसभा चुनाव के बाद NDA में शामिल हुए जदयू के लिए आखिर कितनी और कौन सीट छोड़ेगा.

  •  उपचुनावों के बाद सभापति का चुनाव बनेगा राजनीतिक युद्धक्षेत्र, राज्यसभा में BJP को मिलकर हराएगा विपक्ष

    उपचुनावों के बाद सभापति का चुनाव बनेगा राजनीतिक युद्धक्षेत्र, राज्यसभा में BJP को मिलकर हराएगा विपक्ष

    राज्यसभा में उपसभापति का चुनाव बीजेपी और विपक्ष के लिए अगला युद्ध का क्षेत्र बनने जा रहा है. सूत्रों की अगर मानें तो कांग्रेस एक बार फिर से राज्यसभा में उपसभापति पद के लिए दावेदारी पेश करेगी. इसके लिए कांग्रेस बीजू जनता दल से भी हाथ मिलाने को तैयार है तब जब दोनों ही पार्टियां ओडिशा में कट्टर प्रतिद्वंद्वी हैं. कांग्रेस राज्यसभा उपासभापति के चुनाव में किसी भी हाल में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को हराने के लिए कमर कस चुकी है. और इसके लिए वह अपने दुश्मनों को भी गले लगाने को तैयार है.  
     
    इस पूरे मामले पर नजदीकी से नजर रख रहे दो लोगों ने बताया कि कांग्रेस सीट के लिए अपना दावा छोड़ने और चुनाव में दावा पेश करने के लिए विपक्षी एकता को और मजबूत करने के लिए बीजेडी, तृणमूल कांग्रेस और दूसरी पार्टियों से भी हाथ मिलाने और अपने उम्मीदवार को वापस लेने पर भी विचार कर सकती है. कांग्रेस ने कुछ ऐसा ही कर्नाटक में कर के दिखाया है जहां उसने अपने मुख्यमंत्री की उम्मीदवारी को तो खत्म किया ही साथ ही बीजेपी के विकल्प को भी खत्म कर दिया.

  •  उपचुनाव हार से बीजेपी को सीटों के साथ वोट शेयर का भी नुकसान

    उपचुनाव हार से बीजेपी को सीटों के साथ वोट शेयर का भी नुकसान

    देश की चार लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के परिणामों से बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. यदि इसमें कर्नाटक की आरआर नगर विधानसभा सीट का परिणाम भी जोड़ लें तो स्कोर 3-12 हो जाता है. बीजेपी के लिए चिंता की सबसे बड़ी बात यह है कि 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद 27 लोकसभा सीटों पर उपचुनाव हुए जिनमें से 24 पर बीजेपी सीधे तौर पर लड़ी थी लेकन सिर्फ 5 सीटें ही जीत पाई, बाकी सीटें उसने विपक्ष के हाथों गंवा दी. यदि इन नतीजों का विश्लेषण करें तो बीजेपी जीती हुई सीटें ही नहीं हार रही है, बल्कि उसका वोट प्रतिशत भी घट रहा है.

  •  उपचुनाव: बीजेपी को यूपी, महाराष्ट्र में बड़ा झटका, 10 में से 9 विधानसभा सीटों पर विपक्षी दल जीते

    उपचुनाव: बीजेपी को यूपी, महाराष्ट्र में बड़ा झटका, 10 में से 9 विधानसभा सीटों पर विपक्षी दल जीते

    भारतीय जनता पार्टी को 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों के परिणामों में विपक्ष ने करारी शिकस्त दी है. उपचुनाव में विपक्ष बीजेपी पर भारी पड़ा है. बीजेपी गठबंधन को 14 सीटों में से 11 पर करारी शिकस्त झेलनी पड़ी है. बीजेपी ने केवल 1 लोकसभा सीट पर ही जीत हासिल की और 1 जगह उसका समर्थित उम्मीदवार जीता है. बाकी 2 लोकसभा सीटों पर विपक्ष भारी पड़ा है. यह दोनों सीटों ही बीजेपी ने अपने ही राज्य यूपी और महाराष्ट्र में गंवाए हैं. विधानसभा उपचुनाव में भी बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ा है. कुल 10 सीटों में उसे सिर्फ उत्तराखंड में ही एक सीट पर जीत मिली.

  •  नौकरानी की बेटी ने BJP विधायक कुशाग्र सागर पर लगाया रेप का आरोप

    नौकरानी की बेटी ने BJP विधायक कुशाग्र सागर पर लगाया रेप का आरोप

    उत्तर प्रदेश के उन्नाव से बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर के एक लड़की से गैंग रेप का केस अभी पूरी तरह से शांत हुआ भी नहीं था कि एक अन्य बीजेपी विधायक पर एक महिला ने बलात्कार का आरोप लगाया है. पीड़िता का आरोप है कि बिसौली से बीजेपी विधायक कुशाग्र सागर ने उसके साथ बलात्कार किया. पीड़ित युवती मंगलवार को अपनी मां के साथ एसएसपी के सामने पेश हुई पीड़ित युवती ने आरोप लगाया कि कुशाग्र ने पहली बार उसके साथ करीब पांच साल पहले अपने ग्रीन पार्क स्थित घर में दुष्कर्म किया था. उस वक्त युवती नाबालिग थी और कुशाग्र भी विधायक नहीं थे.

Page 1 of 4