•  आरोप: तेजस्वी बोले- मुझे ज़हर खिलाकर मारने की साजिश रच रही है नीतीश सरकार

    आरोप: तेजस्वी बोले- मुझे ज़हर खिलाकर मारने की साजिश रच रही है नीतीश सरकार

    राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू यादव के बेटे और राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने बिहार सरकार पर उनके खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया है. तेजस्वी ने कहा है कि नीतीश कुमार की सरकार उनके संविधान बचाओ न्याय यात्रा में मिल रहे अपार जनसमर्थन से घबरा गई है. इसलिए बौखलाहट में उनके खिलाफ गंभीर साजिश की जा रही है. बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपने आधिकारिक टि्वटर हैंडिल पर ट्वीट करते हुए नीतीश सरकार पर ये आरोप लगाए हैं. उन्होंने यहां तक कहा है कि राज्य सरकार उनकी छवि बिगाड़ने और जान-माल का नुकसान पहुंचाने के लिए यह कुचक्र रच रही है.

  •  नीतीश को लालू ने अपने ही अंदाज में घेरा, पूछा- बिहार में बाढ़ की वजह दो पैर वाले चूहे या चार पैर वाले

    नीतीश को लालू ने अपने ही अंदाज में घेरा, पूछा- बिहार में बाढ़ की वजह दो पैर वाले चूहे या चार पैर वाले

    आज बिहार में भागलपुर के कहलगांव में करोड़ों की लागत से बना बांध उद्घाटन से पहले ही टूट गया. सीएम नीतीश कुमार इस पंप नहर योजना का आज उद्घाटन करने वाले थे. फिलहाल मुख्यमंत्री का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है. इसे लेकर तेजस्वी यादव ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है. तेजस्वी ने ट्वीट कर पूछा है कि नीतीश जी बतायें, 828 करोड़ की लागत से बनी बांध परियोजना को भी चूहे कुतर गए है क्या? जो बांध टूट गया? इसका सेहरा भी चूहों के सिर बांधना चाहिए.

  •  कोर्ट द्वारा सृजन घोटाले कि जांच किए जाने पर नही है सरकार को आपत्ति :नीतीश कुमार

    कोर्ट द्वारा सृजन घोटाले कि जांच किए जाने पर नही है सरकार को आपत्ति :नीतीश कुमार

    सृजन घोटाले पर बिहार में राजनीति गरम है. सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में कहा कि अगर कोर्ट जांच की निगरानी करे तो राज्य सरकार को कोई आपत्ति नहीं है. नीतीश ने इस मामले में पिछले सप्ताह सीबीआई जांच का आदेश दिया था. विपक्षी राजद का कहना हैं कि सीबीआई जांच से वे संतुष्ट नहीं हैं और इस मामले की या तो पटना हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट की कोई बेंच निगरानी करे. लेकिन नीतीश कुमार का कहना था कि राज्य सरकार यह आदेश नहीं दे सकती और जिन्होंने भी इस मामले में याचिका दायर की है वे यह आग्रह कर सकते हैं. यह भी पढ़ें: सृजन घोटाले में आरोपी महेश मंडल की मौत, पुलिस पर लगाये गए आरोप

    यह पूछे जाने पर कि भागलपुर के संजीत कुमार ने 2013 में सृजन महिला सहयोग समिति में घोटाले के संबंध में लिखा था तब नीतीश कुमार ने कहा कि कोई पत्र उनके पास खासकर किसी विभाग से संबंधित शिकायत सीधे उस विभाग के पास प्रतिक्रिया के लिए चली जाती है.  

    राजद अध्यक्ष लालू यादव ने इस पत्र के आधार पर आरोप लगाया है कि यह घोटाला नीतीश कुमार की जानकारी में था,  इसलिए नीतीश और सुशील मोदी दोनों को इस्तीफा देना चाहिए. संजीत कुमार के इस पत्र के आधार पर रिज़र्व बैंक ने बिहार सरकार ने सहकारी समितियों को जांच करने के लिखा, परन्तु भागलपुर के जिला अफसर के निर्देश पर यह जांच कभी पूरी नहीं हुई.   

    इस दौरान सोमवार को बिहार विधानसभा का सत्र शुरू हुआ और विधानसभा में इस पर जमकर बवाल हुआ. मंगलवार को भी राजद ने घोषणा की है कि वे इस केस को जोर-शोर से उठाएंगे. विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि रविवार को महेश मंडल नाम के जिस नज़ीर की मौत हुई वह हत्या है. जिला प्रशासन का कहना है कि महेश किडनी और कैंसर की बीमारी से ग्रस्त था और उसकी मौत इसी वजह से हुई.

  •  बीएसपी ने ट्वीटर पर किया विपक्ष की एकजुटता को दिखता हुआ पोस्टर शेयर

    बीएसपी ने ट्वीटर पर किया विपक्ष की एकजुटता को दिखता हुआ पोस्टर शेयर

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी से मुकाबले के लिए विपक्ष खुद को एकजुट करने की कोशिश शुरू कर चुका है. बिहार में लालू के बाद यूपी में बीएसपी ने सामाजिक न्याय के नाम पर विपक्षी दलों से इक्कठा होने की अपील की है. बीएसपी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक पोस्टर शेयर किया गया है. इस पोस्टर में मायावती, अखिलेश यादव, लालू प्रयाद यादव, ममता बनर्जी, सोनिया गांधी की तस्वीर एकसाथ नजर आ रही है. हालांकि बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव एससी मिश्रा ने ब्यान देते हुए कहा कि बहुजन समाज पार्टी का कोई आधिकारिक ट्विटर हैंडल ही ही नहीं. यह भी पढ़े:बीजेपी ने लोकतंत्र का भविष्य खतरे में डाल दिया है : मायावती

  •  बिहार: सृजन घोटाले की सीबीआई जांच के खिलाफ आये तेजस्वी यादव

    बिहार: सृजन घोटाले की सीबीआई जांच के खिलाफ आये तेजस्वी यादव

    सीएम नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से राशि की अवैध निकासी के प्रकरण की जांच सीबीआई को सौंपने की सिफारिश की है. मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार भागलपुर में सरकारी खाते से राशि की अवैध आवाजाही के पूरे मामले एवं सभी पहलुओं पर नीतीश ने आज यहां मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह, पुलिस महानिदेश पीके ठाकुर, गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी एवं आर्थिक अपराध इकाई के पुलिस महानिरीक्षक जीएस गंगवार के साथ जांच की.

Page 1 of 2