•  पटियाला कोर्ट – 7 जुलाई को बतौर आरोपी होना होगा पेश, चार्जशीट के आधार पर पर्याप्त सुबूत

    पटियाला कोर्ट – 7 जुलाई को बतौर आरोपी होना होगा पेश, चार्जशीट के आधार पर पर्याप्त सुबूत

    मंगलवार को सुनवाई के बाद शशि थरूर को आरोपी माना गया. अब उन्हें 7 जुलाई को पटियाला कोर्ट में पेश होने के लिए कहा है. पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के केस में पति शशि थरूर पर आरोपी के रूप में केस चलेगा. कोर्ट ने कहा कि चार्जशीट के मुताबिक, थरूर पर केस चलाने के लिए पर्याप्त सुबूत है. दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट में सुनंदा के पति को आत्महत्या के लिए उकसाने और पत्नी के साथ क्रूरता करने का आरोपी बनाया है. 

  •  परीक्षा केंद्र में चार मिनट की देरी ने छीन ली ज़िन्दगी, UPSC की तैयारी कर रहे छात्र ने किया सुसाइड

    परीक्षा केंद्र में चार मिनट की देरी ने छीन ली ज़िन्दगी, UPSC की तैयारी कर रहे छात्र ने किया सुसाइड

    सिर्फ 4 मिनट लेट होने पर नहीं दे सका UPSC का एंट्रेंस एग्जाम. इसी बात से आहत होकर स्टूडेंट ने कर ली आत्महत्या. असल में, दिल्ली में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रहे एक छात्र ने आत्मकहत्याS कर ली. कहा जा रहा है कि परीक्षा केंद्र में चार मिनट लेट पहुंचने पर उसे प्रवेश नहीं दिया गया. पुलिस ने छात्र के कमरे से सुसाइड नोट बरामद हुआ है कि जिसमें उसने परीक्षा में देर से पहुंचने और घरवालों को जल्दे भूलने की बात लिखी है. पुलिस ने छात्र के शव को पोस्टिमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया.

  •  राज कुमार गुप्ता- सीबीएसई रिजल्ट्स ने छीनी ज़िन्दगी

    राज कुमार गुप्ता- सीबीएसई रिजल्ट्स ने छीनी ज़िन्दगी

    सीबीएसई की दसवीं बोर्ड परीक्षा के परिणाम आते ही दिल्ली में तीन बच्चों ने फांसी लगा ली. देशभर में न जाने कितने और बच्चे कम नंबर लाने के कारण से हताशा के शिकार हुए होंगे. दरअसल इस साल नौ साल के बाद अनिवार्य टेंथ क्लास बोर्ड परीक्षा की वापसी हुई है. शायद इसी का असर है कि पास करने वाले स्टूडेंट्स की संख्या भी कम हो गई है. पिछले पांच साल में पहली बार देश भर में दसवीं का परिणाम 90 प्रतिशत से कम रहा. इस साल दसवीं में सीबीएसई बोर्ड से 86.70 फीसदी बच्चे ही पूरे देश में पास हुए हैं, जबकि 2017 में उनका पास पर्सेंटेज 93.06 था. दरअसल इस साल कई चीजें बदली हुई हैं. एक तो बोर्ड शुरू हो गया, दूसरे 100 फीसदी कोर्स से फाइनल एग्जाम लिया गया था. याद रहे, वर्ष 2009-10 में यूपीए सरकार ने दसवीं में बोर्ड को वैकल्पिक बना दिया था. यह बच्चे पर था कि वह बोर्ड की परीक्षा दे या स्कूल की. इसका फायदा यह था कि अधिकतर बच्चे अपने स्कूल में सहज होकर परीक्षा देते थे. 

  •  काबुल: आत्मघाती फिदायीन हमले में मारे गए 7 धर्म गुरु, 14 घायल: फिदायीन हमले को इस्लाम के खिलाफ बताना हो सकता है वजह

    काबुल: आत्मघाती फिदायीन हमले में मारे गए 7 धर्म गुरु, 14 घायल: फिदायीन हमले को इस्लाम के खिलाफ बताना हो सकता है वजह

    सोमवार को अफगानिस्तान की राजधानी में फिदायीनों ने आत्मघाती हमला किया. इस हमले में 17 लोग घायल हुए जबकि 14 लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में 7 उलेमा और 4 सुरक्षाकर्मी शामिल थे. बाकी तीन की पहचान नहीं हो सकी. माना जा रहा है इस हमले की वजह उलेमाओं का फिदायीनों के खिलाफ फतवा जारी करना था. माना जा रहा है कि आतंकी इस बात से नाराज़ थे. 

  •  दिल्ली: दसवीं में आये कम अंक; दो बच्चों ने किया सुसाइड, घर में लगाई फांसी

    दिल्ली: दसवीं में आये कम अंक; दो बच्चों ने किया सुसाइड, घर में लगाई फांसी

    नंबरों से हार गयी ज़िन्दगी. परीक्षा का परिणाम किसी के लिए इतना भयंकर भी हो सकता है इस बात का अंदाज़ा इस खबर के बाद से लग जायेगा. मंगलवार को CBSE का टेंथ क्लास का रिजल्ट आया. इसमें कुल 86.70 छात्र ही पास हुए हैं. इसी के चलते नंबर कम आने पर दो बच्चों ने अपनी ज़िन्दगी का अंत करना ही बेहतर समझा. 

Page 1 of 16