•  खाते में मिनिमम बैलेंस से जुड़े नियम बदलेगा SBI?

    खाते में मिनिमम बैलेंस से जुड़े नियम बदलेगा SBI?

    नव वर्ष पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया अपने ग्राहकों को एक खुशखबरी दे सकता है. सेंट्रल गवर्नमेंट के दवाब और ग्राहकों की आलोचना के बाद SBI बचत खातों के लिए न्यूनतम जमा राशि रखने की शर्त को हटा सकता है. फिलहाल एसबीआई के बचत खाते में कम से कम 3 हजार रुपये रखना जरूरी है, अन्यथा ग्राहक को बतौर जुर्माना कुछ रकम का भुगतान करना पड़ता है. वहीं, अब बैंक न्यूनतम जमा राशि की सीमा 1 हजार रुपये कर सकता है. साथ ही खाते में हर माह एक निश्चित रकम बनाए रखने की शर्त को भी बदल सकता है.

  •  SBI ने घटाई बचत खातों की ब्याज दर

    SBI ने घटाई बचत खातों की ब्याज दर

    31 जुलाई से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने बचत खातों पर ब्याज की प्रणाली को 2-स्तरीय बना दिया है. 1 करोड़ रुपये से कम की जमा पर ब्याज दर को चार फीसदी से घटाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया गया है, जबकि एक करोड़ रुपये से ज़्यादा की जमा पर 4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा.

  •  SBI ने घटायी बचत खातों में ब्याज की दर

    SBI ने घटायी बचत खातों में ब्याज की दर

    31 जुलाई से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने बचत खातों पर ब्याज की प्रणाली को 2-स्तरीय बना दिया है. 1 करोड़ रुपये से कम की जमा पर ब्याज दर को चार फीसदी से घटाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया गया है, जबकि एक करोड़ रुपये से ज़्यादा की जमा पर 4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा.

  •  स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने समाप्त किया ये शुल्क, लेनदेन होगा आसान

    स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने समाप्त किया ये शुल्क, लेनदेन होगा आसान

    भारत के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने छोटे डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए 1,000 रुपये तक के आईएमपीएस ट्रांसफर पर शुल्क समाप्त कर दिया है. इससे पहले 1,000 रुपये तक के आईएमपीएस लेनदेन पर देय सेवाकर के साथ स्टेट बैंक प्रति लेनदेन 5 रुपये का शुल्क वसूल रहा था.

  •  SBI को है आशंका- जारी रह सकता है नोटबंदी का असर

    SBI को है आशंका- जारी रह सकता है नोटबंदी का असर

    नोटबंदी को लेकर देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने सबसे बड़ी आशंका जाहिर कर दी है. SBI ने कहा है कि नोटबंदी के कारण इकोनॉमी पर मंदी का असर अभी जारी रह सकता है. कारोबार पर भी विपरीत प्रभाव बना रह सकता है.

Page 1 of 2