•  पैंगोंग झील के पास 6 किलोमीटर तक घुसे चीनी सैनिक

    पैंगोंग झील के पास 6 किलोमीटर तक घुसे चीनी सैनिक

    अरुणाचल प्रदेश में चीनी सैनिकों की घुसपैठ से तनाव का माहौल पैदा हो गया है. असफिला क्षेत्र में चाइना के दावे से गतिरोध और भी बढ़ गया है. रिपोर्टस के अनुसार चीनी सैनिक लद्दाख के पैंगोंग झील के पास हिंदुस्तान की सीमा में 6 किलोमीटर तक अंदर घुस आए. वहीं, ITBP जवानों ने उन्हें खदेड़ दिया.

  •  मायावती ने 11 साल पहले कहा था- SC-ST एक्ट में निर्दोष न फंसे

    मायावती ने 11 साल पहले कहा था- SC-ST एक्ट में निर्दोष न फंसे

    SC/ST (अत्याचार निवारण) अधिनियम-1989 को लेकर सोमवार को देशभर में भारत बंद के दौरान बवाल हुआ. देश के 10 राज्यों में बंद के दौरान प्रदर्शन से हिंसा फैली और दस लोगों की मृत्यु हुई. यह बंद सुप्रीम कोर्ट के अधिनियम के कुछ नियमों को शिथिल करने के निर्णय के खिलाफ था. बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने इस भारत बंद का समर्थन किया था और सेंट्रल गवर्नमेंट पर आरोप लगाया था कि वह SC/ST एक्ट को लेकर गंभीर नहीं है. 

  •  CBSE paper leak: सुप्रीम कोर्ट ने सभी याचिकाएं खारिज कीं

    CBSE paper leak: सुप्रीम कोर्ट ने सभी याचिकाएं खारिज कीं

    सुप्रीम कोर्ट ने 12 वीं का इकोनॉमिक्स का पेपर फिर से कराने के सीबीएसई के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं को खारिज कर दिया. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि फिर से परीक्षा कराने का फैसला सीबीएसई पर है, कोर्ट इस मामले में फैसला नहीं कर सकता. गौरतलब है कि सीबीएसई की 12 वीं कक्षा की अर्थशास्त्र और 10वीं की गणित का प्रश्न पत्र लीक होने के बाद सीबीएसई ने री-एग्जाम कराने का फैसला किया था. हालांकि बोर्ड ने मंगलवार को 10वीं का मैथ्स का पेपर फिर से कराने के अपने फैसले को वापस ले लिया.

  •  पीएम मोदी ने पलटा स्मृति ईरानी का फैसला, फेक न्यूज को लेकर IB मिनिस्ट्री ने जारी की थी गाइडलाइंस

    पीएम मोदी ने पलटा स्मृति ईरानी का फैसला, फेक न्यूज को लेकर IB मिनिस्ट्री ने जारी की थी गाइडलाइंस

    फर्जी खबरें यानी फेक न्यूज रोकने संबंधी सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के एक दिन पहले के आदेश ने एक बार फिर केंद्र सरकार की किरकिरी करा दी है. मंत्रालय द्वारा सोमवार की शाम जारी किए गए इस आदेश के देशव्यापी विरोध के बाद आज सरकार ने इसे वापस लेने का आदेश दे दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस संबंध में मंत्रालय को अपना आदेश वापस करने को कहा है. इससे पहले मंत्रालय ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा था कि सरकार फर्जी खबरें प्रकाशित करने वाले या ऐसा दुष्प्रचार करने वाले पत्रकारों पर सख्त कार्रवाई करेगी. ऐसी खबरों के प्रचार-प्रसार करने वाले पत्रकार की सरकारी मान्यता स्थाई रूप से समाप्त कर दी जाएगी. मंत्रालय ने फर्जी खबरों की जांच के लिए 15 दिन की समयावधि भी निर्धारित कर दी थी.

  •  इजरायली सैनिकों से हिंसक झड़प में 16 फिलिस्तीनियों की मौत, 2000 से ज्यादा घायल

    इजरायली सैनिकों से हिंसक झड़प में 16 फिलिस्तीनियों की मौत, 2000 से ज्यादा घायल

    शुक्रवार को गाजा-इजरायल बॉर्डर पर हजारों फिलिस्तीनी नागरिकों ने प्रदर्शन किया. ग्रेट मार्च ऑफ रिटर्न कहे जाने वाले 6 हफ्ते के विरोध प्रदर्शन के पहले दिन इजरायली सेना से झड़प में लगभग सोलह फिलिस्तीनी नागरिकों की मृत्यु हो गई. साथ ही करीब दो हजार से ज्यादा लोग जख्मी बताए गए हैं. घटना के सामने आने के बाद यूएन सिक्युरिटी काउंसिल ने इजरायल से संयम बनाए रखने की अपील की है.

Page 1 of 17