•  क्या 2019 में कांग्रेस को शिव तो सपा को विष्णु दिलाएंगे जीत

    क्या 2019 में कांग्रेस को शिव तो सपा को विष्णु दिलाएंगे जीत

    चुनावी राजनीति क्या-क्या नहीं कराती? हिंदू वोटों के लिए भाजपा के राम मंदिर मुद्दे की काट के लिए अब विपक्षी दल धार्मिक मामले में पीछे रहने को तैयार नहीं हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शिव भक्ति तो सपा चीफ अखिलेश यादव विष्णु भगवान के नाम पर नगर बसाने की घोषणा करके भाजपा के हाथ से ध्रुवीकरण का हथियार छीनने की कोशिश में लगे हैं. लगता है, चुनाव के लिए सबके अपने-अपने भगवान बन गए हैं.

  •  2019 लोकसभा चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा का पटना साहिब सीट से कटेगा पत्ता, BJP का यह नेता होगा उम्मीदवार

    2019 लोकसभा चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा का पटना साहिब सीट से कटेगा पत्ता, BJP का यह नेता होगा उम्मीदवार

    लोकसभा चुनाव 2019 में होने हैं. चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक पार्टियां अपने प्रत्याशियों को लेकर भी जोड़ तोड़ में जुट गई हैं. ऐसे में बिहार से भाजपा सांसद और मशहूर एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा को लेकर सियासत काफी गर्म हो चुकी है. एनडीए में भाजपा और जदयू में सीटों के बंटवारे और उम्मीदवारों को लेकर चल रहा घमासान कभी भी थम सकता है क्योंकि अंदरखाने सीटों का बंटवारा हो चुका है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात की है. माना ये जा रहा है कि सीटों के बंटवारे को लेकर जल्द ही आधिकारिक घोषणा होने वाली है. हाल ही में बीजेपी और जेडीयू की ओर से कहा भी गया था कि अब जल्द ही सीट शेयरिंग को लेकर बात साफ हो जाएगी.

  •  बीजेपी को हराने के लिए कम सीटें लेने के लिए तैयार अखिलेश यादव

    बीजेपी को हराने के लिए कम सीटें लेने के लिए तैयार अखिलेश यादव

    अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए समाजवादी पार्टी के चीफ अखिलेश यादव कोई भी रिस्क लेना नहीं चाहते. राज्य में उनकी पार्टी और बसपा के बीच संभावित महागठबंधन से पहले सीटों के बंटवारे को लेकर शीर्ष नेताओं के बीच मनमुटाव की आ रही खबरों को खारिज करते हुए अखिलेश यादव ने कहा है कि देश की जनता बदलाव चाहती है और भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए वह हर हाल में गठबंधन करेंगे. इसके लिए वह दो कदम पीछे हटने को भी तैयार हैं.

  •  बिहार: जेडीयू ने बदला रुख, कहा- 2019 में PM मोदी और CM नीतीश के चेहरे के साथ उतरेगी पार्टी

    बिहार: जेडीयू ने बदला रुख, कहा- 2019 में PM मोदी और CM नीतीश के चेहरे के साथ उतरेगी पार्टी

    जनता दल यूनाइटेड की 16 सितंबर को राज्य कार्यकारिणी की एक मुख्य बैठक होने वाली है. इससे पहले पार्टी ने कहा है कि साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए राज्य में पार्टी का चेहरा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दोनों होंगे.

  •  नहीं चलेगा जाति-परिवारवाद, विदेश यात्रा पर जाने से पहले बीजेपी मुख्यमंत्री मुझसे करें संपर्क: पीएम मोदी

    नहीं चलेगा जाति-परिवारवाद, विदेश यात्रा पर जाने से पहले बीजेपी मुख्यमंत्री मुझसे करें संपर्क: पीएम मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा शासित प्रदेशों के सीएम को प्रशासन और टिकट वितरण में अपने रिश्तेदारों को शामिल करने के खिलाफ नाराजगी जताते हुए उन्हें ऐसा न करने की सलाह दी है. साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्रियों को विदेश यात्रा करने से पहले उनसे संपर्क करने की भी बात कही है.
     
    हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक, भाजपा के दो नेताओं ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले महीने के अंत में दिल्ली में भाजपा प्रमुख और उपमुख्यमंत्रियों के एक सम्मेलन में ये बातें कही थी. एक भाजपा नेता ने बताया प्रधानमंत्री ने हमें बताया कि सत्ता में रहते हुए परिवार के दांव अक्सर भारी पड़ जाते हैं.
     
    इसे नियंत्रण में रखना बहुत आवश्यक है. अगर हम ऐसा करते हैं तो यह वंशवाद की राजनीति पर कांग्रेस के खिलाफ हमले की हमारी प्रमुख राजनीतिक रेखा को कमजोर कर देगा. उन्होंने बताया कि इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने दो दशक पहले मध्यप्रदेश में भाजपा के चुनावी नुकसान का उदाहरण भी दिया. मोदी ने कहा कि उस चुनाव में सबसे बड़ी समस्या यह थी कि नेताओं ने परिवार के सदस्यों को ही बहुत सारे टिकट दे दिए. 

Page 1 of 6