•  राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला हमला, कहा- छोटे दुकानदार, मजदूर, किसान की जेब से सरकार ने पैसा निकाला

    राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर बोला हमला, कहा- छोटे दुकानदार, मजदूर, किसान की जेब से सरकार ने पैसा निकाला

    मोदी सरकार के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने राफेल डील, बेरोजगारी और जीएसटी को लेकर सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि फ्रांस के राष्ट्रपति ने मुझे बताया कि राफेल डील पर ऐसा कोई करार भारत-फ्रांस के बीच नहीं है जो कहे कि आप हवाई जहाज के दाम नहीं बता सकते. नरेंद्र मोदी के दबाव में आकर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश से झूठ बोला. उन्होंने कहा- प्रधानमंत्री ने देश को सिर्फ जुमले दिए. वादे पूरे नहीं किए. केंद्रीय संसदीय मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि राहुल बिना सबूतों के आरोप लगा रहे हैं. इसके बाद सत्ता पक्ष के सांसदों ने हंगामा शुरू कर दिया. स्पीकर को कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी चर्चा से पहले एनडीए में भाजपा के बाद सबसे बड़े सहयोगी दल शिवसेना ने यू-टर्न ले लिया. एक दिन पहले अपने सांसदों के लिए व्हिप जारी करने के बाद शिवसेना ने शुक्रवार को कहा कि वह वोटिंग में हिस्सा ही नहीं लेगी. उधर, 19 सांसदों वाले बीजू जनता दल ने भी कहा कि यूपीए और एनडीए की सरकारों ने कुछ नहीं किया, इसलिए हम वॉकआउट करते हैं. इन दोनों दलों के वोटिंग में हिस्सा नहीं लेने पर लोकसभा में सदस्यों की संख्या 497 रहेगी. बहुमत के लिए 249 वोट जरूरी होंगे. अकेले भाजपा के पास 274 सांसद हैं.

  •  भारत ने अर्थव्यवस्था मामले में फ्रांस को पीछे छोड़ा, GST की वजह से हुआ बड़ा फायदा

    भारत ने अर्थव्यवस्था मामले में फ्रांस को पीछे छोड़ा, GST की वजह से हुआ बड़ा फायदा

    फ्रांस और ब्रिटेन जैसे देशों को पछाड़कर भारत विश्व की छठी सबसे बड़ी इकॉनमी वाला देश बन गया है. विश्व बैंक द्वारा 2017 के लिए जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले एक दशक में भारत ने अपनी जीडीपी में दोगुनी बढ़ोतरी दर्ज की है, जबकि इसी दौरान एशिया में चीन काफी पीछे चला गया है.

  •  GST को पूरा हुआ 1 साल, जानें- क्या हुआ हासिल और क्या रही खामियां

    GST को पूरा हुआ 1 साल, जानें- क्या हुआ हासिल और क्या रही खामियां

    गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) को एक साल हो गया है. एक जुलाई 2017 को सरकार ने 70 साल पुराना टैक्स स्ट्रक्चर खत्म कर दिया था. इसकी जगह जीएसटी लागू किया था. इसके तहत 5%, 12%, 18% और 28% के टैक्स स्लैब बनाए गए. एक बार अप्रैल में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपए के आंकड़े को पार कर गया. जब जीएसटी लागू हुआ, तब सवाल ये उठा था कि इससे सरकार को रेवेन्यू का नुकसान हुआ. लेकिन पिछले 11 महीने के आंकड़े बताते हैं कि 17 अप्रत्यक्ष करों के बदले जीएसटी लागू करने से कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ. 

  •  GST के दायरे में भी आने पर नहीं कम होंगे पेट्रोल-डीजल के रेट, अधिकारी ने बताई वजह

    GST के दायरे में भी आने पर नहीं कम होंगे पेट्रोल-डीजल के रेट, अधिकारी ने बताई वजह

    अगर पेट्रोल और डीजल को वस्तु. एवं सेवा कर (GST) के दायरे में ले आया जाए, फिर भी आम आदमी को कोई खास राहत नहीं मिलने वाली है. एक वरिष्ठS सरकारी अधिकारी ने बताया कि 28 फीसदी टैक्स  के अलावा राज्योंर द्वारा लगाया जाने वाला स्थाानीय कर या वैट GST में आने के बावजूद पेट्रोल और डीजल पर लगाए जाएंगे. अधिकतम GST के अलावा वैट मौजूदा टैक्स् जैसा ही होगा जिसमें फिलहाल केंद्र सरकार का उत्पावद शुल्का और राज्यक सरकारों के वैट सम्मिलित हैं.

  •  भारत सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था: अरुण जेटली

    भारत सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था: अरुण जेटली

    वित्त मंत्री अरुण जेटली आजकल सोशल मीडिया के जरिए विपक्ष को निशाने पर ले रहे हैं. वह कई मुद्दों पर लगातार लिख रहे हैं जिसमें सरकार की नीति का बचाव लेते हुए विपक्ष पर प्रश्न दाग रहे हैं. अब उन्होंने बिना नाम लिए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, जशवंत सिन्हा और पी. चिदंबरम सहित कई अर्थशास्त्रियों को जवाब दिया है. वित्त मंत्री ने कहा है कि भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में चौथी तिमाही में 7.7 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है. जिससे यह दुनिया की तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बन गई है.

Page 1 of 15