•  मार्जिन वसूलने के लिए कंपनियां बढ़ा सकती हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

    मार्जिन वसूलने के लिए कंपनियां बढ़ा सकती हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

    कर्नाटक चुनावों का प्रभाव जहाँ सेंसेक्स पर देखने को मिला, वहीँ इसके असर से तेल कंपनियां भी अछूती नहीं रही. कंपनियां कर रहीं हैं मार्जिन वसूलने की तैयारी. खबर के अनुसार, पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल में चार रुपये से 4.55 रुपये तक और डीजल में साढ़े तीन से चार रुपये तक की बढ़ोतरी करने की तैयारी करली है.

  •  सेंसेक्स 400 अंक उछला; निफ्टी 10900 के पार, कर्नाटक चुनाव रुझानों में बीजेपी को बढ़त का असर

    सेंसेक्स 400 अंक उछला; निफ्टी 10900 के पार, कर्नाटक चुनाव रुझानों में बीजेपी को बढ़त का असर

    कर्नाटक विधानसभा चुनाव की मतगणना के दिन शेयर बाजार में भाजपा के शुरुआती रूझानों में बढ़त मिलने के बाद तेजी देखने को मिली।  वहीं रुपया कमजोरी के साथ खुला। सेंसेक्स और निफ्टी में तेजी के साथ कारोबार करते हुए देखे गए। 

  •  कर्नाटक चुनाव खत्म होते ही लगा झटका, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में इजाफा

    कर्नाटक चुनाव खत्म होते ही लगा झटका, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में इजाफा

    पेट्रोल-डीजल के दामों में 19 दिन बाद बदलाव किया गया है। दिल्ली में पेट्रोल 17 पैसे वहीं डीजल 21 पैसे महंगा हुआ है। कोलकाता और मुंबई समेत बाकी शहरों में भी पेट्रोल के दाम बढ़े हैं। 24 अप्रैल के बाद तेल कंपनियों ने पहली बार रेट में बदलाव किया है। पहले से ही आशंका बनी हुई थी कि कर्नाटक चुनाव होते ही ऐसा होगा। 12 मई को चुनाव हो चुके हैं और इसके एक दिन बाद ही तेल के दाम बढ़ गए हैं।

  •  फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड: मुंजाल-बर्मन की बोली हुई मंजूर

    फोर्टिस हेल्थकेयर लिमिटेड: मुंजाल-बर्मन की बोली हुई मंजूर

    फोर्टिस हेल्थकेयर बोर्ड ने हीरो एंटरप्राइज इन्वेस्टमेंट ऑफिस और बर्मन फैमिली ऑफिस (डाबर) के प्रस्ताव को चुन लिया है। इस प्रपोजल को शेयरधारकों की मंजूरी मिलना जरूरी है। कंपनी की बोर्ड बैठक में ये तय किया गया। गुरुवार देर रात बीएसई फाइलिंग में इसकी जानकारी दी गई है। लंबे समय से फोर्टिस हेल्थकेयर को बेचने की कोशिशें चल रही थीं। इस दौरान कई निवेशकों ने बोली लगाई लेकिन फोर्टिस हेल्थकेयर को हीरो और बर्मन फैमिली का संशोधित प्रस्ताव पसंद आया। बैठकों के लंबे दौर और एक्सपर्ट एडवाइजरी कमेटी से चर्चा के बाद इस प्रस्ताव पर कंपनी बोर्ड ने अपनी सिफारिश दी है।

  •  ई-कॉमर्स कंपनी वॉलमार्ट खरीद सकती है फ्लिपकार्ट को, साथ ही कर लेगी 40 प्रतिशत भारतीय बाज़ार पर अपना कब्जा

    ई-कॉमर्स कंपनी वॉलमार्ट खरीद सकती है फ्लिपकार्ट को, साथ ही कर लेगी 40 प्रतिशत भारतीय बाज़ार पर अपना कब्जा

    वॉलमार्ट खरीद सकती है फ्लिपकार्ट को खरीदने का एलान. जी हाँ इस डील का एलान कभी भी हो सकता है. दुनिया की सबसे बड़ी रीटेल कंपनी वॉलमार्ट और भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट के बीच कमर्शियल डील की घोषणा कभी भी हो सकता है. इस डील के जरिए वॉलमार्ट को भारत में ऑनलाइन प्लेटफॉर्म मिल जाएगा. ईकॉमर्स- बाजार में फ्लिपकार्ट की 40% हिस्सेदारी है. भारत में कंपनी को अमेजन से टक्कर मिलेगी, क्योंकि बाजार इसकी 38% मौजूदगी है.

Page 1 of 68