• ‘शुभ संकेत’ जिनसे पता चलता है घर में होने वाला है ‘लक्ष्मी’ आगमन

    ‘शुभ संकेत’ जिनसे पता चलता है घर में होने वाला है ‘लक्ष्मी’ आगमन

    इंसान शगुन और अपशगुन में सदियों से विश्वास करता आ रहा है और आगे भी करता रहेगा. जब हमारे आस-पास कुछ अच्छा हो तो उसे शगुन कहते हैं और कुछ बुरा हो तो अपशगुन कहलाया जाता है. प्रकृति हमें पहले ही संकेत देती है कि क्या होने वाला है जैसे अचानक गायों का झुण्ड आपके घर के आस-पास आकर बैठना शुरु कर दे तो यह शगुन है और इससे पता चलता है  क‌ि आपके घर में बड़ी खुशी आने वाली है. ऐसे ही कुछ और शगुन हैं जो आपको धन लाभ का संकेत देते हैं. आईए जानें.

  • घर पर काली मिर्च से करें उपाये, शनि होंगे बलवान भरेंगे भंडार

    घर पर काली मिर्च से करें उपाये, शनि होंगे बलवान भरेंगे भंडार

    ज्योतिषशस्त्रियों की मानें तो काली मिर्च शनि ग्रह का कारक पदार्थ है, जो कष्टों से मुक्ति दिलाता है। रसोई में उपयोग होने वाली काली मिर्च बचा सकती है शनि के अशुभ प्रभाव से। दिखने में छोटी गोल काली मिर्च न केवल सेहत के लिए प्रभावशाली है बल्कि नियति का लिखा मिटाने में भी हो सकती है मददगार। रूपया-पैसा, धन-दौलत प्रत्येक मनुष्य की अवश्यकता है। मनुष्य दिन से लेकर रात तक धनवान बनने की मंशा लिए हुए कार्य करता है। घर पर काली मिर्च से करें उपाये, शनि होंगे बलवान भरेंगे भंडार

  • 4 घंटे चलेगा चंद्रग्रहण, आज रात 10.24 पर होगा शुरू

    4 घंटे चलेगा चंद्रग्रहण, आज रात 10.24 पर होगा शुरू

    अभी थोड़े दिनों पहले सूर्यग्रहण लगा था. जिसका असर आंशिक रूप से कुछ ही राशियों पर पड़ा था, लेकिन आज होने वाले चंद्रग्रहण का असर पूरी तरह से पड़ेगा. चंद्रग्रहण के समय पृथ्वी अपनी धूरी पर भ्रमण करते हुए चंद्रमा व सूर्य के बीच आ जाती है. ऐसी स्थिति में चंद्रमा का पूरा या आधा भाग ढक जाता है. इसी को चंद्रग्रहण कहते हैं. इस ग्रहण का असर हमारी राशियों के साथ-साथ हमारे शरीर पर पड़ने वाला है. शुक्रवार रात को लगने वाला ये चंद्रग्रहण भारत में दिखाई देगा. चार घंटे तक चलने वाले यह ग्रहण 16 सितंबर रात 10.25 पर शुरू होकर रत 2.24 तक रहेगा. 

  • अगर शनिवार को किसी को गिफ्ट किया यह सामान तो शनिदेव हो जाएंगे नाराज

    अगर शनिवार को किसी को गिफ्ट किया यह सामान तो शनिदेव हो जाएंगे नाराज

    सनातन धर्म में शनिदेव को न्यायाधीश कहते हैं अर्थात मनुष्य के अच्छे-बुरे कर्मों का फल देना शनिदेव का काम है। जिसकी कुंडली में शनि प्रतिकूल स्थान पर हों उसे जीवन में परेशानीयों का सामना करना पड़ता है। ज्योतिष में शनि को कर्मफल का प्रदाता कहते हैं। शनि ही व्यक्ति को उसके अच्छे-बुरे कर्मों का फल प्रदान कर व्यक्ति के जीवन को सफल या दुश्वर बनाते हैं। भारतीय ज्योतिष में संसार की हर वस्तु को उसके गुणधर्म के आधार पर नवग्रहों के अनुरूप के वर्गीकृत किया गया है।

  • गुरुवार के इन 7 उपायों से दूर होते हैं गुरु ग्रह के दोष

    गुरुवार के इन 7 उपायों से दूर होते हैं गुरु ग्रह के दोष

    गुरुवार को देव गुरु बृहस्पति की विशेष पूजा की जाती है। गुरु भाग्य और धर्म का कारक ग्रह माना गया है। कुंडली में गुरु की स्थिति का असर वैवाहिक जीवन पर भी होता है। गुरु यदि शुभ स्थिति में हो तो भाग्य का साथ मिलता है और पति-पत्नी के बीच प्रेम बना रहता है। कुंडली में गुरु से संबंधित कोई दोष हो तो कई मामलों में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इन उपायों से दूर होते हैं गुरु ग्रह के दोष.

Page 8 of 9