• करवाचौथ पर इन मन्त्रों का करें जाप, बनेंगी सौभाग्यवान

    करवाचौथ पर इन मन्त्रों का करें जाप, बनेंगी सौभाग्यवान

    {रविवार|

  •  चंद्र को अर्घ्य दें तब जरूर बोलें, यह करवा चौथ का पवित्र मंत्र

    चंद्र को अर्घ्य दें तब जरूर बोलें, यह करवा चौथ का पवित्र मंत्र

    करवा चौथ एक नारी पर्व है। सुहागिन नारी का अपने पति की दीर्घायु आयु और हर प्रकार के सुख-ऐश्वर्य की कामना के साथ किया गया निर्जल उपवास है। ऐसे अनूठे व्रत हिंदू संस्कृति में ही हो सकते हैं। यह नारी पर्व कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को मनाया जाता है। इस पर्व में दिनभर का उपवास करके, शाम को सुहागिनें करवा की कहानियां कहती-सुनती हैं। उसके पश्चात गौरा से सुहाग लेकर तथा उगते चंद्रमा को अर्घ्य देकर अपने सुहाग की अटलता की कामना करती हैं। इस बार जब चंद्र को अर्घ्य दें तो यह मंत्र अवश्य बोलें....

    करकं क्षीरसंपूर्णा तोयपूर्णमयापि वा। ददामि रत्नसंयुक्तं चिरंजीवतु मे पतिः॥

    इति मन्त्रेण करकान्प्रदद्याद्विजसत्तमे। सुवासिनीभ्यो दद्याच्च आदद्यात्ताभ्य एववा।।

    एवं व्रतंया कुरूते नारी सौभाग्य काम्यया। सौभाग्यं पुत्रपौत्रादि लभते सुस्थिरां श्रियम्।।

  • माँ दुर्गा के इस मंत्र का जाप, देगा आपको पैसा, अच्छी सेहत और सब कुछ

    माँ दुर्गा के इस मंत्र का जाप, देगा आपको पैसा, अच्छी सेहत और सब कुछ

    नवरात्रि में मां का नाम लेने भर से भक्तों के कष्ठ दूर हो जाते हैं। कहा जाता है कि नवरात्रि में कुछ विशेष मंत्रों का जाप करने से अभिष्ठ कार्य की सिद्धि होती है और पूजा का कई गुना फल मिलता है। यहां हम आपको बता रहे हैं एक मंत्र जिसका नवरात्रि के नौ दिनों या किसी एक दिन उच्चारण करने से मां प्रसन्न होती हैं और भक्त की व्याधि, रोग, पीड़ा और दरिद्रता को नष्ट कर भक्त को उत्तम स्वास्थ्य और धन संपति का वरदान देती हैं।

  • नवरात्री में करें इन मंत्रों का जप, बरसेगी माता की कृपा

    नवरात्री में करें इन मंत्रों का जप, बरसेगी माता की कृपा

    नवरात्री के नौ दी बढ़े ही विशेष होते हैं. प्रत्येक दिन अपनी अलग ही अहमियत रखता है. इन नौ दिनों में माता के स्वरूप की पूजा की जाती है. इन नौ दिनों में मां का दुर्गा चालीसा और दुर्गा सप्तशती का पाठ करना बेहद लाभकारी सिद्ध होता है. लेकिन समय के अभाव लोग इस कार्य को करने से कतराते हैं. अगर आपके पास भी समय की कमी है तो अपनी राशि के अनुसार नवरात्री में इन मंत्रों का जप कर लें. 

  •  शुक्रवार को लक्ष्मी मां को करें प्रसन्न, छप्पर फाड़ के बरसेंगी खुशियां

    शुक्रवार को लक्ष्मी मां को करें प्रसन्न, छप्पर फाड़ के बरसेंगी खुशियां

    हर इंसान धन और समृद्धि के रूप में लक्ष्मी की प्रसन्नता की कामना रखता है, पर लक्ष्मी कृपा के लिए पवित्रता और परिश्रम जैसी चीजें कर्म, व्यवहार और स्वभाव में उतारने की जरूरत है. पावनता और वैभव की देवी माता लक्ष्मी की साधना शुक्रवार को बहुत ही शुभ मानी गई है.

Page 1 of 3