वर्दी और शराब के नशे में दरोगा ने की महिला से छेड़खानी, गुस्साई भीड़ ने पहनाये जूते-चप्पल

वर्दी और शराब के नशे में दरोगा ने की महिला से छेड़खानी, गुस्साई भीड़ ने पहनाये जूते-चप्पल

दो चीज़ों के नशे बहुत बुरे होते हैं. पहला शराब और दूसरा वर्दी. जो इंसान ये दोनों नशे एक साथ करता है उसका क्या अंजाम होता है. यह ख़बर पढ़िए आपको पता लग जायेगा. मामला बिहार का है. यहाँ एक दरोगा ने शराब के नशे में एक महिला के साथ छेड़ा खानी की. घटना से भड़के लोगों ने दरोगा की खूब सुताई करी. 

हुआ यूँ, शराब के नशे में धुत फलका थाना के दरोगा ने फलका बाज़ार स्थित एक महिला के साथ छेड़ा-खानी की यह कहते हुए कि महिला शराब बेचती है. महिला ने इस बात से साफ-साफ इंकार कर दिया. बावजूद इसके शराबी दरोगा महिला को जबर्दस्ती अपनी स्कॉर्पियो में बिठा कर ले जा रहा था. जैसे ही घटना की भनक लोगों को लगी तुरंत आनन-फानन में लोगों पहले तो शराबी दरोगा को खूब धोया और उसके बाद जूते–चप्पल की माला पहनाकर उसे एसपी के आने तक बंधक बनाकर रखा. 

घटना की जानकारी मिलते ही एसपी डां. सिद्धार्थ मोहन जैन ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की. जांच में दारोगा की निजी स्कार्पियो से शराब की कई बोतलें और चखना पाया गया, जिसे एसपी ने तुरंत कस्टडी में ले लिया. बतौर एसपी, दारोगा को गिरफ्तार कर लिया गया है. दोषी होने पर सजा भी दी जायेगी. संभवतया: शराबबंदी लागू होने के बाद दारोगा की गिरफ्तारी का यह पहला मामला है.

शराब के नशे में थानाध्यक्ष सुनील कुमार सिंह गश्ती के दौरान रविवार की रात फलका बाजार पहुंचे. वहां  एक महिला के घर में घुस गए और शराब बेचने का आरोप लगाते हुए उनके साथ छेड़खानी करने लगे. महिला के विरोध करने पर उसे साथ ले जाने लगे. जिसके बाद लोगों ने पकड़कर खूब पिटाई लगायी. जूते-चप्पल से स्वागत किया. मेडिकल टेस्ट में भी दरोगा के शराब पीने की बात सामने आई है. फिलहाल दरोगा को पकड़ लिया गया है. और अब उसका सारा नशा भी उतर गया है. लेकिन अब पछताए होत क्या, जब चिड़िया चुग गई खेत. 
 

loading...