चंपारण सत्याग्रह के 100 साल होने पर बिहार पहुंचे मोदी

 चंपारण सत्याग्रह के 100 साल, बिहार पहुंचे मोदी

बुधवार को चंपारण सत्याग्रह शताब्दी समारोह के समापन पर पीएम नरेंद्र मोदी बिहार दौरे पर पहुंचे. वे यहां मोतिहारी के गांधी मैदान में भारत भर से जुटे बीस हजार स्वच्छाग्रहियों को संबोधित करेंगे. कई को सम्मानित किया जाएगा. 'सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह' अभियान का आगाज भी होगा. कार्यक्रम में राज्यपाल सत्यपाल मलिक, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, रामविलास पासवान, राधामोहन सिंह और सुशील मोदी भी होंगे. 

दरअसल, महात्मा गांधी ने दस अप्रैल 1917 को चंपारण सत्याग्रह किया था. इसकी याद में पिछले साल इसका शताब्दी समारोह शुरू किया गया था, बुधवार को इसका समापन किया जा रहा है.

सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री , मोतिहारी से नगर विकास की 5 योजनाओं की नीवं रखेंगे. इनकी लागत 1186.06 करोड़ रुपए है. इनमें से 1164 करोड़ रुपए राजधानी पटना के लिए आरंभ होने वाली 4 परियोजनाओं पर खर्च किए जाएंगे. इससे यहां 381.7 किलोमीटर लंबाई के तीन सीवरेज नेटवर्क तैयार होंगे. इसके अलावा मोतिहारी के मोतीझील का पुनर्विकास किया जाएगा.

ये काम भी शुरू होंगे
मोतिहारी के मोतीझील का सौंदर्यीकरण. खर्च- 21.99 करोड़. 
बेतिया नगर परिषद जलापूर्ति योजना. 
सुगौली में एलपीजी प्लांट. 
मुजफ्फरपुर-सुगौली रेलवे लाइन दोहरीकरण. 
मोतिहारी में LPG टर्मिनल. 
चंपारण हमसफर ट्रेन को हरी झंडी.

वहीं, मधेपुरा इलेक्ट्रिक लोकोमोटिव फैक्ट्री में तैयार पहले रेल इंजन को प्रधानमंत्री राष्ट्र को समर्पित करेंगे. बारह हजार हॉर्स पावर के इस इलेक्ट्रिक इंजन से रेल गाड़ियों की रफ्तार बढ़ जाएगी.

loading...