देहरादून में PM मोदी ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 55 हजार लोगों के साथ योगासन किया, कहा- दुनिया योग के कारण हिंदुस्तान से जुड़ी

अंतरराष्ट्रीय योग दिवसः पीएम मोदी ने देहरादून में 55 हजार लोगों के साथ किया योगासन, बोले- योग की वजह से भारत से जुड़ी दुनिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चौथे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में 55 हजार लोगों के साथ योग किया. युवाओं के साथ ही बुजुर्ग भी योग कार्यक्रम में शामिल हुए. प्रधानमंत्री ने राजभवन प्रांगण में चंदन वृक्ष का पौधा लगाया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राज्यपाल डॉ कृष्ण कांत पाल ने स्मृति चिह्न भेंट किया. इसके बाद पीएम मोदी मंच पर पहुंचे. पीएम मोदी ने हाथ हिलाकर वहां मौजूद लोगों का अभिवादन किया. इससे लोगों के चेहरे खिल उठे.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गुलाब का तेल भेंट कर पीएम मोदी का स्वागत किया. पीएम ने सभी का अभिनंदन किया. सीएम रावत ने हर एक उत्तराखंडवासी की तरफ से पीएम मोदी को धन्यवाद कहा गया. उन्होंने कहा कि यह उत्तराखंड के लिए गौरव का दिन है. योग दिवस की मेजबानी देकर आपने हमें धन्य किया है. संयुक्त राष्ट्र में पीएम मोदी ने जग के कल्याण के लिए योग मंत्र दिया, 193 देशों ने इसे स्वीकार भी किया है. दुनिया को योग का संदेश देकर पीएम मोदी ने भारत को मानव कल्याण से जोड़ा है. मैं विश्वास के साथ कह रहा हूं. अटल जी ने बनाया था और अब पीएम मोदी जी संवार रहे हैं.

पीएम मोदी ने दुनियाभर के योग प्रेमियों को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं भी दीं. पीएम ने कहा कि आज जैसे-जैसे सूरज अपनी यात्रा कर रहा है दुनिया के हर उस हिस्से में लोग योग से सूर्य का स्वागत कर रहे हैं. दुनिया में हर जगह योग ही योग है. योग मन, शरीर, बुद्धि और आत्मा को जोड़कर जीवन में शांति की अनुभूति कराता है.

पीएम मोदी ने कहा कि आज विश्व का हर देश, हर नागरिक योग को अपना मानने लगा है. हम हिंदुस्तानियों के लिए बड़ा संदेश है कि हम इस परंपरा के धनी है. अगर हम अपनी विरासत पर गर्व करना शुरू कर दें तो दुनिया गर्व करने में पीछे नहीं रहेगी. हिंदुस्तान ने खुद को योग से जोड़ा तो दुनिया भी योग से जुड़ गई. मैं विश्वास से कह सकता है कि अगर दुनिया में योग करने वाले लोगों के आंकड़े जमा किए जाए तो भारी संख्या देखने को मिलेगी. आज योग नई ऊर्जा दे रहा है. भारत में भी हिमालय से लेकर राजस्थान तक योग फैल गया है. उन्होंने कहा कि जब तोड़ने वाली ताकतें हावी होती हैं तो बिखराव आता है, समाज में दीवारें खड़ी होती हैं परिवार में कलह बढ़ता है और जीवन में तनाव बढ़ता चला जाता है. इस बिखराव के बीच योग जोड़ने का काम करता है.

संबोधन के बाद पीएम मोदी साधकों के बीच पहुंचे और एक बार फिर हाथ हिलाकर साधकों का अभिवादन किया. इसके बाद मोदी के साथ हजारों साधकों ने तीन बार 'ऊँ' का उच्चारण किया और योगाभ्यास कार्यक्रम शुरू हो गया. पीएम मोदी सहित हजारों साधकों ने कपालभाती, अनुलोम-विलोम और भ्रामरी प्राणायाम और ध्यान मुद्रा का अभ्यास किया. सभी साधकों ने नमस्कार मुद्रा में शांति पाठ किया, इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के कार्यक्रम का समापन हो गया.

loading...