पीएम मोदी की जान को है खतरा, राजीव गांधी की तरह माओवादी करना चाहते हैं हत्या, पुणे पुलिस के हाथ लगा पर्चा

 माओवादियों ने रची पीएम मोदी की हत्या का साजिश, पर्चे से हुआ खुलासा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या करने का साजिश रची जा रही है. देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तरह ही पीएम मोदी की हत्या करने की माओवादियों द्वारा साजिश रची जा रही है. इसकी सूचना भीमा-कोरेगांव में जनवरी में हुई हिंसा में पांच लोगों की गिरफ्तारी के बाद सामने आई है. पुणे पुलिस को एक आरोपी के घर से ऐसा पत्र मिला है, जिसमें 'राजीव गांधी की हत्या' जैसी प्लानिंग का जिक्र किया गया है. पत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाने की बात कही गई है. पुलिस ने बुधवार को रोना जैकब विल्सन, सुधीर ढावले, सुरेंद्र गाडलिंग सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था. विल्सन को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था, ढावले को मुंबई से, गाडलिंग, शोमा सेन और महेश राउत को नागपुर से गिरफ्तार किया गया था. पुलिस का कहना है कि यह पत्र विल्सन के दिल्ली के मुनिरका स्थित फ्लैट से बरामद किया गया है.

आरोपी के घर से बरामद चिट्ठी में लिखा है, "पीएम मोदी का पूरे देश में बढ़ता दायरा हमारी पार्टी के लिए हर लिहाज से बड़ा खतरा है. मोदी लहर का फायदा उठाते हुए बीजेपी देश के 15 से ज्यादा राज्यों में अपनी सरकार बनाने में सफल रही है. ऐसे में हमें पीएम मोदी के खात्मे को लेकर सख्त\कड़े कदम उठाने ही होंगे. हम सोच रहे हैं कि राजीव गांधी हत्याकांड की तरह इसे भी अंजाम दिया जाए ताकि देखने में यह आत्महत्या या दुर्घटना जैसा लगे. एक और राजीव गांधी हत्याकांड को अंजाम देने के लिए पीएम के रोड शो को टार्गेट किया जा सकता है.

आरोपियों को भीमा-कोरेगांव में 1 जनवरी को हुई हिंसा से ठीक एक दिन पहले आयोजित यलगार परिषद के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है. उन पर प्रतिबंधित कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (माओवाद) से जुड़े होने, विवादास्पद पर्चे बांटने, नफरत फैलाने वाले भाषण देने का आरोप है. पुलिस ने गुरुवार को उन्हेंद यहां सेशन कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हेंु 14 जून तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. अभियोजक पक्ष की ओर से अदालत में पेश वकील उज्जुवला पवार ने कहा कि विल्स न के घर से जो चिट्ठी मिली है, उसमें लिखा है कि M-4 रायफल और हथियार खरीदने के लिए आठ करोड़ रुपये की जरूरत है. गुरुवार को ही जॉइंट पुलिस कमीश्न र रवींद्र कदम ने कहा था कि विल्सन के घर से कथित तौर पर बरामद पत्र सीपीआई (एम) से जुड़े मिलिंद तेलतुम्बकडे ने भेजा था.

loading...