डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन परमाणु निरस्त्रीकरण पर करेंगे वार्ता

 निरस्त्रीकरण पर किम जोंग से बातचीत करेंगे अमेरिकी प्रेसिडेंट

नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच एटमी हथियारों के मसले पर जल्द ही बातचीत होगी. ट्रम्प प्रशासन के मुताबिक, नॉर्थ कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन हथियार खत्म करने के लिए चर्चा को तैयार है. इस बात की पुष्टी रविवार को व्हाइट हाउस के एक सीनियर अफसर ने की. ट्रम्प और किम की मुलाकात मई के आखिर में हो सकती है. पिछले दिनों अमेरिकी प्रेसिडेंट भी इसके लिए सहमति जाहिर कर चुके हैं.

तानाशाह किम जोंग पहले कह चुका है कि वह अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प से मिलने के लिए उत्सुक है. साथ ही कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु हथियार खत्म करने के लिए भी बात करेगा. यह बात गौर करने लायक है कि इस पर साऊथ कोरिया की तरफ से कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है. हालांकि, किम पिछले दिनों चीन का दौरा कर चुका है. इस दौरान उसके और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से बीच बात हुई थी.

पिछले माह साउथ कोरिया एक डेलिगेशन साऊथ कोरिया की यात्रा पर गया था. जिसके बाद यह डेलिगेशन अमेरिका गया. जहां पर डेलिगेशन ने डोनाल्ड ट्रंप से कहा कि किम जोंग ने उन्हें मीटिंग के लिए इन्वाइट किया है. यूएस प्रसिडेंट ने इस प्रस्ताव को मान लिया. ट्रम्प के इस फैसलें ने सबको चौंका दिया. ट्रम्प ने साऊथ कोरिया के तानाशाह से मई में मिलने की सहमति जताई है. दोनों नेताओं के बीच ये पहली मुलाकात होगी.

बता दें कि यूएस और साऊथ कोरिया के बीच मुलाकात कराने में साउथ कोरिया ने ही मध्यस्थ की भूमिका निभाई. साउथ कोरिया के नेशनल सिक्युरिटी एडवाइजर (एनएसए) चुंग यूई-योंग ने ही इस बात की जानकारी दी कि ट्रम्प, उन से मुलाकात के लिए राजी हो गए हैं. अक्टूबर 2000 में बिल क्लिंटन की विदेश मंत्री रहीं मेडलीन अलब्राइट ने किम जोंग उन के पिता और तब साऊथ कोरिया के शासक रहे किम जोंग II से बात की थी.

loading...