•  शट डाउनः बजट नहीं होने के कारण अमेरिकी सरकार का कामकाज ठप

    शट डाउनः बजट नहीं होने के कारण अमेरिकी सरकार का कामकाज ठप

    अमेरिकी सीनेट द्वारा व्यय विधेयक खारिज कर दिए जाने के कारण पांच साल में पहली बार अमेरिकी सरकार का कामकाज शनिवार को औपचारिक रूप से बंद हो गया. इससे राष्ट्रपति के रूप में डोनाल्ड ट्रंप का पहला साल अफरातफरी भरी स्थिति में पूरा हुआ. सीनेट ने सरकारी खजाने से संघीय सरकार के खर्चे के लिए अल्पकालिक व्यय विधेयक को मंजूरी नहीं दी जिससे सरकार का कामकाज शनिवार को औपचारिक रूप से बंद हो गया.

  •  चीन ने डोकलाम में बड़े पैमाने पर निर्माण को जायज ठहराया, कहा - हमारा इलाका, हम कुछ भी करें

    चीन ने डोकलाम में बड़े पैमाने पर निर्माण को जायज ठहराया, कहा - हमारा इलाका, हम कुछ भी करें

    चीन ने डोकलाम क्षेत्र में अपनी व्यापक निर्माण गतिविधियों को शुक्रवार को उचित ठहराया और भारत से कहा कि चीनी संप्रभु क्षेत्र में इसके ‘‘वैध’’ बुनियादी ढांचा विकास पर उसे टिप्पणी नहीं करनी चाहिए. चीन की प्रतिक्रिया इन खबरों के बीच आई है कि वह डोकलाम में भारत के साथ हुए गतिरोध से संबद्ध स्थल के पास एक बड़ा सैन्य परिसर बना रहा है. क्षेत्र में एक चीनी सैन्य परिसर की उपग्रह से ली गई तस्वीरें सामने आने के बारे में पूछे जाने पर चीनी विदेश मंत्रालय प्रवक्ता लु कांग ने कहा कि मैंने भी संबंद्ध रिपोर्ट देखी है. मुझे नहीं पता कि इस तरह की तस्वीरें किसने प्रस्तुत की. लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि उनके पास इस बारे में विस्तृत सूचना नहीं है.

  •  अमेरिका ने कहा-मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है हाफिज, पाक चलाए उसपर मुकद्दमा

    अमेरिका ने कहा-मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है हाफिज, पाक चलाए उसपर मुकद्दमा

    आतंकी हाफिज सईद को क्लीनचिट दिए जाने पर अमेरिका ने पाकिस्तान को कड़ी फटकार लगाई। अमेरिका ने कहा कि हाफिज के खिलाफ कानून के तहत केस चलना चाहिए। हाल ही में पाक पीएम शाहिद खाकान अब्बासी ने हाफिज को साहब कहा था। ये भी कहा था कि उस पर पाकिस्तान में कोई केस दर्ज नहीं है, लिहाजा कोई सजा नहीं हो सकती।

  •  बलूच नेता का बड़ा खुलासा: ईरान से किया गया कुलभूषण का अपहरण

    बलूच नेता का बड़ा खुलासा: ईरान से किया गया कुलभूषण का अपहरण

    पाक में कारावास की यातना झेल रहे भारतीय कुलभूषण जाधव को पाक की खुफिया संस्था ISI के इशारे पर किराये के टट्टूओं ने ईरान के चाबहार से अगवा किया था. इसका खुलासा सक्रिय बलूच कार्यकर्ता मामा कदीर ने किया है. 

  •  उत्तर कोरिया बोला- अपने अपमानजनक और असभ्य बयानों के लिए माफी मांगे यूएस माफी मांगे

    उत्तर कोरिया बोला- अपने अपमानजनक और असभ्य बयानों के लिए माफी मांगे यूएस माफी मांगे

    उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच गतिरोध लगातार जारी है। उत्तर कोरिया के परमाणु प्रेम की वजह से दोनों ही देशों के प्रमुखों के बीच लगातार बयानबाजी होती रहती है। उत्तर कोरिया ने अब मांग की है कि अपने अपमानजनक और असभ्य बयानों के लिए यूएस माफी मांगे।