•  किशनगंगा प्रोजेक्ट की लेकर हुई पाक की इन्सल्ट, वर्ल्ड बैंक ने कहा- भारत की बात माननी चाहिए

    किशनगंगा प्रोजेक्ट की लेकर हुई पाक की इन्सल्ट, वर्ल्ड बैंक ने कहा- भारत की बात माननी चाहिए

    पाकिस्तान को एक बार फिर से विश्व स्तर पर किरिकिरी का शिकार होना पड़ा है. इससे वो बौखला गया है. असल में, किशनगंगा बांध परियोजना मामले में भारत की शिकायत लेकर वर्ल्ड बैंक पहुंचे पाकिस्तान को भारत का प्रस्ताव स्वीकार करने की सलाह मिली है. 

  •  सिंगापुर के कैपेला होटल में होगी डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग-उन के बीच चर्चा

    सिंगापुर के कैपेला होटल में होगी डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग-उन के बीच चर्चा

    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन के बीच 12 जून को प्रस्तावित मुलाकात सिंगापुर के दक्षिण में स्थित सेंटोसा आइलैंड में होगी. ट्विटर पर की गई पोस्ट में व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने कहा कि दोनों देशों के नेताओं के मुलाकात के लिए सेंटोसा द्वीप में स्थित कपेला होटल को चुना गया है. उन्होंने सिंगापुर के नागरिकों को उनकी मेहमानबाजी के लिए भी शुक्रिया किया है. बता दें कि दोनों नेताओं के बीच में यह मुलाकात सिंगापुर के समय के मुताबिक, सुबह 9 (भारतीय समयानुसार सुबह 6:30) बजे शुरू होगी.

  •  ट्रंप-किम की 12 जून को सिंगापुर में होने वाली बैठक का खर्च उठाएगा नोबेल विजेता संगठन

    ट्रंप-किम की 12 जून को सिंगापुर में होने वाली बैठक का खर्च उठाएगा नोबेल विजेता संगठन

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन के बीच होने वाली बहुप्रतीक्षित मुलाकात का समय तय हो गया है. व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी सारा सैंडर्स ने बताया कि 12 जून को दोनों सुबह 9 बजे मिलेंगे. ये वक्त भारतीय समयानुसार शाम करीब 6:30 बजे का होगा. हालांकि, यह मुलाकात किस जगह होगी, इसका ऐलान नहीं किया गया है. लेकिन कुछ मीडिया रिपोर्ट में शांगरी ला होटल का नाम सामने आ रहा है. उधर, नोबेल शांति पुरस्कार विजेता परमाणु हथियार विरोधी संगठन इंटरनेशनल कैंपेन टू अबाॅलिश न्यूक्लियर वेपंस (आईकैन) ने इस मुलाकात का पूरा खर्च उठाने की पेशकश की है. दरअसल, तंगहाली से जूझ रहा उत्तर कोरिया चाहता है कि होटल का खर्च कोई और देश उठाए.

  •  काबुल: आत्मघाती फिदायीन हमले में मारे गए 7 धर्म गुरु, 14 घायल: फिदायीन हमले को इस्लाम के खिलाफ बताना हो सकता है वजह

    काबुल: आत्मघाती फिदायीन हमले में मारे गए 7 धर्म गुरु, 14 घायल: फिदायीन हमले को इस्लाम के खिलाफ बताना हो सकता है वजह

    सोमवार को अफगानिस्तान की राजधानी में फिदायीनों ने आत्मघाती हमला किया. इस हमले में 17 लोग घायल हुए जबकि 14 लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में 7 धार्मिक गुरू और 4 सुरक्षाकर्मी शामिल थे. बाकी तीन की पहचान नहीं हो सकी. माना जा रहा है इस हमले की वजह उलेमाओं का फिदायीनों के खिलाफ फतवा जारी करना था. माना जा रहा है कि आतंकी इस बात से खफा थे. 

  •  ग्वाटेमाला में ज्वालामुखी विस्फोट से 25 की मौत, एयरपोर्ट बंद

    ग्वाटेमाला में ज्वालामुखी विस्फोट से 25 की मौत, एयरपोर्ट बंद

    ग्वाटेमाला के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी ‘वोल्कन डे फुगो’ में हुए विस्फोट में कम से कम 25 लोगों की मृत्यु हो गई. विस्फोट से निकली राख के कारण हवाईअड्डे को बंद करना पड़ा है. देश की आपदा प्रबंधन एजेंसी नेशनल कॉर्डिनेटर फॉर डिजास्टर रिडक्शन के प्रवक्ता ने एक व्हाट्सएप ग्रुप में कहा, रात नौ बजे तक मृतकों की संख्या 25 थी. प्रवक्ता ने कहा कि लापता और मृतकों के लिए खोज एवं बचाव अभियान कम रोशनी और खतरनाक स्थितियों के कारण रद्द कर दिया गया है. ज्वालामुखी फटने से आसपास के इलाके में आसमान में राख फैल गई. इससे पहले आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रमुख सर्गियो कबानास और राष्ट्रपति जिम्मी मोराल्स ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि घटना में सात लोगों की मौत हो गई, 20 घायल हो गए और 17 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए. मोराल्स ने घटना से सबसे अधिक प्रभावित एस्क्युन्टिला, चिमाल्टेनांगो और सैकेटेपेक्वेज के लिए रेड अलर्ट की घोषणा की है.

Page 2 of 111