जीएसटी पोर्टल में अभी भी 2 बड़ी खामियां, कारोबारियों ने कहा नहीं फाइल हो रही रिटर्न

 जीएसटी पोर्टल में अभी भी 2 बड़ी खामियां, कारोबारियों ने कहा नहीं फाइल हो रही रिटर्न

कई कोशिशों के बावजूद GST पोर्टल पर फाइलिंग की परेशानी दूर होती नजर नहीं आ रही है. व्यापारियों का दावा है कि अभी भी जुलाई का रिटर्न ही नहीं फाइल हो पा रहा है. इसके अतिरिक्त पुराने स्टॉक की डिटेल भी अपडेट नहीं कर रहा है. इसको देखते हुए व्यापारी जीएसटी पोर्टल मेंटेन करने वाली कंपनी इंफोसिस का ऑडिट कराने की डिमांड कर रहे हैं.

टैक्स एक्सपर्ट एम के गांधी ने बताया कि जीएसटी पोर्टल 1 जुलाई से पहले की कोई भी ट्रांजेक्शन नहीं ले हा है. गांधी ने कहा कि अगर किसी ट्रेडर ने बिल 28 जून का जेनरेट किया है और उसका वह इन्पुट क्रेडिट जुलाई के रिटर्न में अप्लाई कर रहा है. तो सिस्टम उसे नहीं ले रहा है. 28 जून के बनाए बिल पर वह कब और कैसे इन्पुट क्रेडिट लेगा जब जीएसटी पोर्टल उस बिल को नहीं ले रहा है. सिस्टम 30 जून तक के बिल पर इन्पुट क्रेडिट नहीं ले रहा है.

वहीं, गांधी ने बताया कि अगर किसी ट्रेडर ने स्टॉक 28 जून को खरीदा लेकिन उसकी डिलीवरी उसे 1 जुलाई के बाद हुई है. तो सिस्टम ऐसे स्टॉक को नहीं ले रहा है वह इसे जून का स्टॉक ही मान रहा है जबकि ये स्टॉक जुलाई में काउंट होना चाहिए. गांधी ने बताया कि इस तरह की कई अकाउंटिंग को लेकर परेशानी कारोबारियों को पोर्टल पर आ रही है. उसे ये नहीं पता है कि इसका क्या सॉल्युशन है.  

सीए गोविंद शर्मा ने बताया कि जीएसटीआर-1, GST आर-2, जीएसटीआर-3बी रिटर्न फाइल करते समय अकाउंटिंग को लेकर परेशानी ज्यादा आ रही है. सिस्टम जून महीने की आखिर में की ट्रांजेक्शन को जुलाई में नहीं ले रहा है, जबकि उसे कहीं और दिखाने का ऑप्शन ही नहीं है.

loading...