फीफा: सेमीफाइनल के लिए आज भिड़ेंगी ब्राजील-बेल्जियम और फ्रांस-उरुग्वे, एक चैम्पियन का बाहर होना तय

 FIFA World CUP में आज फ्रांस-उरुग्वे और ब्राजील-बेल्जियम के बीच सेमीफाइनल के लिए हाई वोल्टेज मुकाबला

फुटबॉल विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली आठ टीमों के बीच शुक्रवार और शनिवार को आखिरी 4 में आने के लिए मुकाबले होंगे. दोनों दिन 2-2 मैच खेले जाएंगे. इन टीमों में से 4 कभी न कभी विश्व चैम्पियन रह चुकी हैं. शुक्रवार को इन्हीं चार के बीच क्वार्टर फाइनल मैच खेले जाएंगे. पहला- मैच फ्रांस और उरुग्वे, दूसरा- बेल्जियम और ब्राजील के बीच खेला जाएगा. साफ है इनमें से दो टीमें ही सेमीफाइनल में पहुंचेगीं, यानी 6 जुलाई के बाद कम से कम एक पूर्व विश्व चैम्पियन का अभियान खत्म हो जाएगा.

फ्रांस और उरुग्वे दिग्गज खिलाड़ियों वाली टीमों को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंची हैं. उरुग्वे ने प्री-क्वार्टर फाइनल में क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाल को हराया था. फ्रांस ने लियोनेल मेसी की अर्जेटीना को शिकस्त दी थी. यह मैच एक तरीके से दोनों टीमों के मजबूत डिफेंस की परीक्षा होगी. उरुग्वे ने अभी तक एक भी मैच नहीं गंवाया है और सिर्फ एक गोल खाया है. अजेय तो फ्रांस भी रही है, लेकिन उसने इस विश्व कप में एक मैच ड्रॉ खेला है.

उरुग्वे की ताकत उसका कसा हुआ डिफेंस है, जिसने रोनाल्डो जैसे खिलाड़ी को पेनाल्टी एरिया में जाने के लिए तरसा दिया था. इस डिफेंस पर फ्रांस के एंटोनी ग्रीजमैन, किलियन एम्बाप्पे, पॉल पोग्बा, एनगोलो कांटे को रोकने की चुनौती होगी. वहीं, फ्रांस के डिफेंस ने मेसी जैसे खिलाड़ी को रोक रखा था. हालांकि, वे एक गोल करने में कामयाब रहे थे, लेकिन फिर खुलकर नहीं खेल पाए. फ्रांस के सैमुएल उम्टिटी और रफाएल वरान के लिए उरुग्वे के अटैक को रोकना मुश्किल हो सकता है. फ्रांस के लिए इस मैच में एक चिंता की बात यह है कि वह ब्लासे माटुइडी की जगह किसे मैदान पर उतारे. माटुइडी निलंबन के कारण इस मैच में नहीं खेल पाएंगे.

ब्राजील ने फिर साबित किया कि विलियन, गैब्रियल, नेमार और फिलिप कुटिन्हो के होने से वे किसी भी चुनौती से निपट सकते हैं. हालांकि, मिडफील्ड अब भी उनके लिए एक समस्या है. प्री-क्वार्टर फाइनल में मैक्सिको के खिलाफ हाफटाइम में ब्राजील को गेंद अपने कब्जे में लेने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा था. बेल्जियम में चेल्सी के इडेन हेजार्ड, मैनचेस्टर सिटी के केविन डि ब्रूने और मैनचेस्टर युनाइटेड के रोमेलू लुकाकू जैसे स्टार हैं. ये खिलाड़ी किसी भी वक्त उलट-फेर करने का माद्दा रखते हैं. 2014 में भी क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली बेल्जियम ने इस विश्व कप में अब तक सबसे ज्यादा 12 गोल किए हैं. उसने जापान के खिलाफ 2 गोल से पिछड़ने के बाद वापसी करते हुए 90+4वें मिनट में नेसर चाडली के गोल के दम पर जीत हासिल की थी. वह विश्व कप के नॉकआउट दौर में 2 गोल से पिछड़ने के बाद जीत दर्ज करने वाली 48 साल में पहली टीम है.

ब्राजील और बेल्जियम 5वीं बार आमने-सामने हैं. इससे पहले हुए 4 में से 3 मुकाबलों में ब्राजील और 1 में बेल्जियम ने बाजी मारी है. दोनों टीमों ने एकदूसरे के खिलाफ आखिरी बार 2002 विश्व कप में मैच खेला था. तब ब्राजील ने 2-0 से जीत हासिल कर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई थी. ब्राजील लगातार 3 जीत के साथ क्वार्टर फाइनल में पहुंचा है. वहीं बेल्जियम की टीम भी लगातार 4 जीत के साथ यहां पहुंची है. पिछले विश्व कप में भी वह लगातार 4 मैच जीतने में सफल रही थी. ब्राजील 1994 से हर बार क्वार्टर फाइनल में पहुंची है. वहीं बेल्जियम पहली बार लगातार दो विश्व कप में क्वार्टर फाइनल में जगह बना पाई है. विश्व कप में बेल्जियम का दक्षिण अमेरिकी टीमों के विरुद्ध प्रदर्शन खराब रहा है. उसकी 7 बार दक्षिण अमेरिकी टीमों से भिड़ंत हुई है, जिनमें से वह 2 जीत पाई, 4 हारी और एक ड्रॉ कराया.

loading...