अदरक से बनेंगे आप जवान...सच में जादू है

 सिर्फ चाय में ही नहीं...ऐसा भी होता है अदरक का प्रयोग; बने रहेंगे जवान

लोग सिर्फ अदरक का उपयोग चाय में ही करते हैं या कभी-कभी सब्जी में अदरक डालते हैं. परन्तु गर्मियों में तो लोग चाय में भी अदरक कम ही डालते हैं. पर क्या आप जानते हैं पर इसके औषधीय गुण इतने अधिक हैं कि आप इसे हर तरह से इस्तेमाल करेंगे तो आपको ही फायदा देगा, नुक्सान नहीं होगा. 

ये ना सिर्फ खाने को अलग स्वाद देता है बल्कि सर्दी, खांसी, जुकाम, अपच, उल्टी आदि में भी लाभदायक है. अदरक डायबिटीज के मरीजों और सामान्य लोगों में ब्लड ग्लूकोज लेवल को कम करने में मददगार है. रोज एक गिलास अदरक का रस तेजी से बढ़ते ग्लूकोज लेवल को कम करने में मदद करता है.

पेचिश, पेट दर्द, सीने में जलन, दस्त, आदि बीमारियों के इलाज में अदरक का उपयोग दवा के रूप में होता आया है. यह खून में ग्लूकोज और कॉलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है और आर्टरीज में जमा फैट को निकाल देता है.

अदरक के रस में कैंसर से लड़ने के गुण भी होते हैं जो प्रोस्टेट कैंसर से बचाने में सहायता करता है.

रोज एक कप अदरक का जूस पीने से दिल जवां बना रहता है और हार्ट अटैक, हाइपरटेंशन व हार्ट फेलियर नहीं होता.

अदरक में दर्द निवारक तत्व होते हैं, जो शरीर में किसी भी प्रकार के दर्द या जोड़ों में होने वाले दर्द से निजात दिलाने में मदद करते हैं. रोज अदरक का रस पीने से हड्डियों के बीच चिकनाहट बनी रहती है और आर्थराइटिस होने का खतरा कम हो जाता है. 

जूस बनाने की विधि: अदरक को धोकर और छीलकर इसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें. मिक्सर में थोड़ा पानी डालकर टुकड़ों को पीस लें फिर कपड़े से छानकर इसका रस निकाल लें. इस रस में आधा नींबू निचोड़ें और यदि आप चाहें तो स्वाद के लिए इसमें कुछ बूंद शहद भी मिला सकते हैं. अदरक का जूस तैयार है.
 

loading...