दांती महाराज ने 8 दिन बाद दिल्ली क्राइम ब्रांच में किया सरेंडर

 दिल्ली क्राइम ब्रांच पहुंचा रेप का आरोपी दांती महाराज

रेप के आरोपों से घिरे शनिधाम पीठ के कर्ताधर्ता दाती मदन महाराज अचानक अपने वकील के साथ दिल्ली अपराध शाखा के ऑफिस में पेश हो गए. इससे पहले उन्हें सोमवार को पेश होना था लेकिन उन्होंने अपने वकील को पुलिस के पास भेजकर पेश होने के लिए कुछ दिनों की मोहलत मांगी थी. जिस पर क्राइम ब्रांच ने उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने की चेतावनी थी.

आखिरकार दाती महाराज मंगलवार को करीब 3 बजे क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंच ही गए. अब क्राइम ब्रांच के अधिकारी दाती महाराज से पूछताछ कर रहे हैं. वे उनसे यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर जो आरोप पीड़िता उन पर लगा रही है, उसमें कितनी सच्चाई है और उनका इस पूरे मामले पर क्या कहना है.

दरअसल, आरोपों के बाद दाती महाराज ने दावा और वादा दोनों किए थे कि वह सोमवार को क्राइम ब्रांच के सामने उपस्थित हो जाएंगे. मगर सोमवार को पूरे दिन बाबा की कोई भनक ही नहीं लगी. उल्टे अपने वकील को दाती ने दिल्ली के क्राइम ब्रांच के दफ्तर भेज दिया.

लेकिन क्राइम ब्रांच ने उनके वकील को दो टूक जवाब दे दिया है कि रेप के इस मामले में अगर दाती महाराज बुधवार तक हाज़िर नहीं होते हैं तो उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया जाएगा. इसके बाद खुद को पाक साफ और कानून का पालन करने वाला बताने वाले बलात्कार के आरोपी दाती महाराज अचानक गायब हो गए थे.
पुलिस ने सर्च वारंट लेकर दाती महाराज के ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी. इस पूरे मामले का नया ट्विस्ट ये है कि क्राइम ब्रांच में पेश होने के बजाए, दाती महाराज ने एक ऑडियो क्लिप जारी कर दिया. हालांकि इस क्लिप में दाती महाराज ने अपने समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

इस ऑडियो क्लिप के सामने आने के बाद ये सवाल उठ रहा था कि राष्ट्र और कानून की बात करने वाले दाती महाराज अगर बेकसूर हैं तो वो क्राइम ब्रांच के सामने पेश क्यों नहीं हो रहे हैं. इस बीच कहने वाले ये कह रहे थे कि चूंकि दाती महाराज खुद ऐस्ट्रोलॉजर है और वो इन दिनों ग्रहों की बदलती चाल को देखते हुए 19 तारीख तक गिरफ्तार नहीं होना चाहते हैं. लिहाज़ा उनके वकील ने क्राइम ब्रांच से बुधवार यानी 20 जून तक का समय मांगा था.

loading...