बिहारः कॉलेज ने लगाई छात्राओं के जींस पहने पर रोक, प्र‍िंसिपल बोलीं- मुस्‍ल‍िम लड़कियों का पहनावा ठीक, हिन्दुओं का शर्मनाक

बिहार : मगध महिला कॉलेज ने जींस, पटियाला सूट पहनने पर लगाई रोक, मोबाइल भी बैन

बिहार की राजधानी पटना के मगध महिला कॉलेज प्रशासन ने मुख्य निर्णय लेते हुए कॉलेस परिसर में जींस पहनकर आने पर रोक लगा दी है. साथ ही क्लास रूम में मोबाइल फोन के प्रयोग पर भी रोक लगा दी गई है. अजीब बात ये है कि कॉलेज प्रशासन जींस के साथ-साथ पटियाला सूट पहनकर आने पर भी रोक लगाई है. 

कॉलेज प्रशान का कहना है कि कॉलेज में जनवरी 2018 से नया ड्रेस कोड लागू किया जाएगा. मगध महिल कॉलेज की प्रधानाचार्य शशि शर्मा का कहना है कि समाजिक असमानता को देखते हुए हमने सभी लड़कियों से अनुरोध किया है कि एक ड्रेस कोड में आएं.

उन्होंने कहा कि मुस्लिम लड़कियां जींस नहीं पहनती इसलिए उनपर कभी आपत्ति नहीं की गई है, लेकिन हिन्दू लड़कियों द्वारा पहने जाने वाली ड्रेसेस शर्मनाक हैं. हमारे कैंपस में फोन फ्री जोन है, जहां पर मोबाइल प्रयोग किया जा सकता है, लेकिन क्सास रूम में नहीं. हमारा कॉलेज कोई आधुनिक कॉलेज नहीं है जो इस तरह की आधुनिकता स्वीकार करे. हमे पारंपरिक तरीकों से सोचते हैं. हम अभी आधुनिकता से मिलो दूर हैं. हमें अभी वहीं पचास वर्ष लगेंगे वहां पहुंचने में.

वहीं, जब कॉलेज प्रशासन के इस कदम के बार में कॉलेज छात्र संघ की जनरल सेक्रेटरी लैला कजमी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जींस पर रोक पुराना नियम है. मोबाइल फोन का क्लास में प्रयोग पहले से ही मना है. फोन मोबाइल फ्री जोन में प्रयोग किया जा सकता है. लड़कियों ने कभी भी ड्रेस कोड पर आपत्ति नहीं की है. बल्कि लड़कियों ने तो इसके लिए अनुरोध किया था. ड्रेस कोड लड़कियों के बीच में से भेद भाव समाप्त करेगा.

loading...