• 8 बच्चों के दादाजी, 68 साल की उम्र में कर रहे हैं 10वीं में पढ़ाई, जज्बे को सलाम

    8 बच्चों के दादाजी, 68 साल की उम्र में कर रहे हैं 10वीं में पढ़ाई, जज्बे को सलाम

    काठमांडू. कहते हैं पढ़ाई की उम्र नहीं होती, कभी भी कुछ सीखने को मिले तो इंसान को उसे ग्रहण करना चाहिए. ऐसा ही कारनामा एक नेपाली बुजुर्ग ने साबित करके दिखाया है. स्यांगजा प्रांत के रहने वाले 68 साल के दुर्गा बचपन में पढ़ाई पूरी नहीं कर सके. लिहाजा, इस उम्र में उन्होंने हायर सेकेंडरी स्कूल में दाखिला ले लिया. अब वो सुबह-सुबह स्कूल यूनिफॉर्म पहन कर हाथों में छड़ी लेकर एक किलोमीटर पैदल चलकर स्कूल पहुंचते हैं और छोटे बच्चों के साथ पढ़ाई का मजा ले रहे हैं.