भारत की इस बेटी ने स्कीइंग में देश को दिलाया पहला अंतरराष्ट्रीय मेडल

तुर्की में भारत की बेटी ने रचा इतिहास, स्कीइंग में देश को दिलाया पहला मेडल

मनाली की आंचल ठाकुर ने मंगलवार को इतिहास रच दिया. आंचल ठाकुर ने स्कीइंग में भारत के लिए पहला मेडल जीता. उन्होंने तुर्की में हुई एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की स्कीइंग प्रतियोगिता में आंचल ने कांस्य पदक अपने नाम किया है. आंचल ठाकुर ने शानदार प्रदर्शन करते हुए कई देशों के खिलाड़ियों को पछाड़ा.

आंचल ने एल्पाइन एज्डेर 3200 कप में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया. एल्पाइन एज्डेर 3200 कप का आयोजन एफआईएस करता है. एफआईएस स्कीइंग के क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय प्रशासकीय संस्था है. जीत के बाद आंचल ने सोशल नेटवर्किंग साईट टि्वटर पर लिखा, ‘आखिरकार कुछ ऐसा हो गया है, जिसकी उम्मीद नहीं थी. मेरा पहला इंटरनैशलन मेडल.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आंचल ठाकुर को बधाई देते हुए कहा कि पूरा देश उनकी ऐतिहासिक उपलब्धि से आहलादित है. आंचल की इस उपलब्धि पर खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने उन्हें बधाई दी है.

वहीं, आंचल ठाकुर की जीत से हिमाचल समेत उनके पैतृक गांव में खुशी की लहर है. आंचल ठाकुर मनाली के बुरूआ गांव से संबंध रखती हैं. आंचल के परिजनों को लगातार बधाईके फोन आ रहे हैं. आंचल ठाकुर के पिता रोशन ठाकुर मनाली में साहसिक खेलों के प्रशिक्षक हैं और यहां प्रशिक्षण संस्थान भी चला रहे हैं.

, ,
loading...