देखिये बिहार के मंत्री की दबंगई, बैंक मैनेजर के गाल पर दे मारा थप्पड़

देखिये बिहार के मंत्री की दबंगई, बैंक मैनेजर के गाल पर दे मारा थप्पड़

इसे कहते हैं गुंडाराज. जिसकी जहाँ जो मर्जी होगी वो वैसा ही करेगा. ऐसी हरकतें करने में सबसे अव्वल है बिहार. जहाँ कभी किसी की सड़क चलते हत्या हो जाती है या फिर कोई किसी को सरेआम गोली मार जाता है. सबसे ज़्यादा हैरान करने वाली तो यह है कि इन सभी घटनाओं के पीछे आला तबके के लोग शामिल होते हैं. अभी ताज़ा मामला सामने आया है एक बैंक मैनेजर के पीटने का. उसका कसूर क्या था? यह जानकर आप हैरान हो जायंगे और सोचने पर मजबूर हो जायंगे क्या वाकई में यह ऐसी गलती थी जिसपर थप्पड़ मारा जाए? 
 
बिहार के कटिहार में इलाहाबाद बैंक में सीपीआई के विधायक ने बैंक में घुसकर न सिर्फ ब्रांच मैनेजर को धमकी दी, बल्कि उसे थप्पड़ भी मारा. बलरामपुर से सीपीआई के विधायक महबूब आलम की यह हरकत सामने लगे सीसीटीवी में कैद हो गई. देखिये इसमें कैसे वो इलाहाबाद के मैनेजर को थप्पड़ मारते नजर आ रहे हैं. हालांकि बैंक मैनेजर राकेश रंजन ने MLA के खिलाफ शिकायत दर्ज करा दी है.

अब जानते हैं बैंक मैनेजर का कसूर क्या था. जानकारी के मुताबिक, राकेश रंजन की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने MLA को बैठने के लिए अपनी कुर्सी नहीं दी. उसे सामने रखी हुई कुर्सी पर बैठने को बोल दिया. बस इसी बात पर विधायक बाबू तमतमा गए और रसीद दिया मैनेजर के गाल पर. आप साफ-साफ देख सकते हैं विधायक 'जी' अपने बॉडी गार्ड्स और समर्थकों के साथ बैंक में पहुचें और थोड़ी देर बात-चीत करने के बाद चांटा मारकर चलते बने और साथ में बैंक मैनेजर को भी अपने पीछे ले गए.

वाह री राजनीति, तू जिसके साथ वो भी धुँआ और जिसके पास नहीं वो भी धुंआ. विधायक जी की आवभगत में थोड़ी कमी क्या रह गई, आग बबूला होकर चांटा रसीद कर चलते बने. फिलहाल राकेश ने अपनी शिकायत दर्ज करा दी है. वैसे तो नतीजा सभी जानते हैं कि कुछ होने वाला नहीं क्यूंकि यह प्रजातंत्र  नहीं जंगलतन्त्र है. यहाँ आम आदमी तो कानून के साथ चलता है लेकिन मंत्री या आला तबका नहीं.

loading...