चारा घोटाला: लालू यादव की सजा पर कल आएगा कोर्ट का फैसला, वापस जेल लौटे

 चारा घोटाला: लालू यादव की सजा पर कल आएगा कोर्ट का फैसला, वापस जेल लौटे

चारा घोटाला के एक मामले में रांची की सीबीआई की विशेष अदालत अब गुरुवार को सजा का ऐलान करेगी। चारा घोटाले में यह दूसरा मामला है, जिसमें लालू यादव को सजा सुनाई जाएगी. सीबीआई कोर्ट ने वकील विंदेश्वरी प्रसाद के निधन की वजह से बुधवार को चारा घोटाला मामले में सजा नहीं सुनाई. वहीं सीबीआई की विशेष अदालत ने इस मामले में तेजस्‍वी यादव, रघुवंश प्रसाद सिंह,  शिवानंद तिवारी और मनीष तिवारी के खिलाफ कोर्ट की अवमानना का नोटिस जारी किया है. कोर्ट ने ये नोटिस अदालत के फैसले के खिलाफ बयान देने पर जारी किया है.

गौरतलब है कि 23 दिसंबर को अदालत ने लालू को देवघर जिला राजकोष से फर्जी रूप से करीब 85 लाख रुपये निकालने का दोषी करार दिया था. इसके बाद उन्हें हिरासत में लेकर रांची के बिरसा मुंडा जेल भेज दिया गया था. वहीं इस मामले में अदालत ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र को सभी आरोपों से बरी कर दिया था. कुल 22 आरोपियों में से अदालत ने 7 को बरी किया था जबकि लालू यादव समेत 15 लोगों को दोषी करार दिया गया था.

अदालत ने 950 करोड़ रुपये के चारा घोटाले से जुड़े देवघर कोषागार से 89 लाख़, 27 हजार रुपये की अवैध निकासी के मामले में फैसला सुनाया है. अवैध ढंग से धन निकालने के इस मामले में लालू प्रसाद यादव एवं अन्य के खिलाफ सीबीआई ने आपराधिक षड्यन्त्र, गबन, फर्जीवाड़ा, साक्ष्य छिपाने, पद के दुरुपयोग आदि से जुड़ी भारतीय दंड संहिता की धाराओं 120बी, 409, 418, 420, 467, 468, 471, 477 ए, 201, 511 के साथ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 13(1)(डी) एवं 13(2) के तहत मुकदमा दर्ज किया था.

मामले की सुनवाई रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने 13 दिसंबर को पूरी कर ली थी. इस पूरे मामले में कुल 34 आरोपी थे, जिनमें से 11 की मौत हो चुकी है जबकि एक आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और सीबीआई का गवाह बन गया.

loading...