यहां सड़क की जगह पानी पर चलते हैं लोग, जमीन के अंदर गड़ा मिला था ये शहर

 यहां पानी पर चलते हैं लोग, सड़क का नामोनिशान नहीं

दुनिया में एक जगह ऐसी भी है, जहां के लोग सड़क की जगह पानी पर चलते हैं. बताया जाता है कि यह शहर 18 वी शताब्दी में जमीन में गड़ा मिला था.

जानकारी के अनुसार, 'नीदरलैंड का वेनिस' कहा जाने वाला एक और सिटी इस धरती पर मौजूद है. यह सिटी 'गिएथूर्न' के नाम से जाना जाता है. इस सिटी की आबादी महज 2,600 के करीब है.

यहां सड़कों से अधिक नहरों का यूज किया जाता है. कहीं भी आना-जाना हो लोग नहरों से ही जाते हैं. यहां पोस्टमेन भी अपनी डाक नाव के माध्यम जरिए बांटने जाता है. दरअसल, इस सिटी का कनाल स्ट्रक्चर बड़ा गजब का बनाया गया है. दूर-दूर तक फैले हुए खेतों में जाने के लिए भी लोग इन्ही नहरों को प्रयोग करते हैं.

सिटी में 176 लकड़ी से बने ब्रिज हैं जो इस शहर की खूबसूरती में 4 चांद लगा देते हैं. अब इस खूबसूरत जगह को देखने के लिए हर साल पर्यटकों की भारी भीड़ यहां जुटने लगी है. कार और बाइक की चिल्लम-चिल्ली से दूर यह जगह पर्यटकों के आकर्षण का विशेष केंद्र बन गई है. इस शहर में पर्यटकों को वाहन सिटी से बाहर रखने की हिदायत दी जाती है.

यहां आने वाले पर्यटक खूबसूरत नावों से पूरे सिटी में घुमते हैं. बताया जाता है कि यहां सर्दियों के समय लोग स्पेशली आइस स्केटिंग करने आते हैं. ठंड में भी यहां पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है. यहां आने वाले टूरिस्ट की बढ़ती संख्या को देखते हुए कई होटल्स और रेस्टोरेंट बनाए गए हैं.

बताया जाता है कि इस शहर की खोज 18 वीं शताब्दी में हुई थी. जब लोग यहां रहने आए, तब उन्होंने देखा कि बाढ़ की वजह से यहां जगह-जगह पर दलदली मिट्टी फैली हुई है. लोगों ने इस मिट्टी की उपयोगिता को समझा और खुदाई करना शुरू किया. कई सालों तक जब खुदाई का काम जारी रहा तो जगह-जगह नहरें बन गई. तब जाकर ये अनोखा सिटी दुनिया की नजरों के सामने आया.

loading...