भारत और इजरायल की दोस्ती से चिढ़ा पाकिस्तान

 भारत-इजरायल की दोस्ती पर भडक़ा पाक, दोनों देशों को बताया इस्लाम विरोधी

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की भारत यात्रा पर पाकिस्तान की पैनी निगाहें हैं। उसके फॉरेन मिनिस्टर ख्वाजा आसिफ ने कहा है कि भारत और इजराइल मिलकर एक अलायंस बना रहे हैं। आसिफ ने कहा- भारत ने कश्मीर में मुस्लिमों की जमीन पर कब्जा किया। यही काम इजरायल ने भी बड़े पैमाने पर किया। लेकिन, पाकिस्तान इन दोनों से ही मुकाबला करने की ताकत रखता है। बता दें कि नेतन्याहू की इंडिया विजिट के दौरान 9 समझौतों पर दस्तखत किए गए हैं। इनमें डिफेंस सेक्टर भी शामिल है।

पाकिस्तान के ‘जियो न्यूज’ चैनल को दिए इंटरव्यू में ख्वाजा आसिफ ने कई मुद्दों पर पूछे गए सवालों के जवाब दिए। एक सवाल के जवाब में आसिफ ने कहा- भारत ने कश्मीर में मुस्लिमों की जमीन पर कब्जा किया। इजराइल ने फलस्तीन की बहुत बड़ी जमीन पर कब्जा जमाया। सच्चाई ये है कि इन दोनों मुल्कों का मकसद एक ही है। और ये है मुस्लिमों की जमीन पर कब्जा करना।

आसिफ ने एक सवाल के जवाब में कहा- पाकिस्तान ने कभी इजरायल को मान्यता नहीं दी। दरअसल, भारत और इजरायल की दोस्ती की बुनियाद ही इस्लाम से दुश्मनी है। हमारा फिलिस्तीन से एक इमोश्नल रिश्ता है। कश्मीर के साथ भी यही है। उन्होंने कहा- यह सही है कि भारत और इजरायल के बीच अलायंस है लेकिन, पाकिस्तान इन दोनों ताकतों से खुद को महफूज रख सकता है।

एक और सवाल के जवाब में आसिफ ने कहा- पाकिस्तान आतंकवाद से मुकाबला कर रहा है। हमारा डिफेंस सेक्टर काफी मजबूत हुआ है। आतंकवाद के खिलाफ हमें जंग में काफी कामयाबी मिली है और हमने इसके लिए कुर्बानियां भी दी हैं। 

इसके पहले पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री ने एक बयान जारी कर कहा कि वो भारत और इजरायल के बीच जारी रिश्तों पर नजर रख रहे हैं। कारोबारी समझौते तो हुए ही हैं साथ में डिफेंस सेक्टर में भी करार हुए हैं। पाकिस्तान इन पर नजर रख रहा है।

loading...