श्रीनगर में ईद की नमाज के बाद सुरक्षाबलों पर पथराव, आईएस और पाकिस्तान के झंडे दिखाए

 श्रीनगर में ईद की नमाज के बाद सुरक्षाबलों पर पथराव, आईएस और पाकिस्तान के झंडे दिखाए

एक तरफ जहां इस समय पूरा देश ईद की खुशी मना रहा है। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज आता हुआ नहीं दिख रहा है। ईद के मौके पर भी वह सीमा पर शांति नहीं चाहता है। इसी का नतीजा है कि जम्मू और कश्मीर के अअरनिया के चिनाज पोस्ट पर सुबह के 3.35 बजे पाकिस्तान की तरफ से स्नाइपर के दो राउंड फायर किए गए जबकि सुबह के 4.10 बजे पाक की तरफ से जरोयाल पोस्ट से पितल पोस्ट पर एमएमजी के दो राउंड फायर किए गए। दोनों पोस्टों पर तैनात जवानों ने जवाबी कार्यवाही की। फिलहाल स्थिति सामान्य है। वहीं नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान द्वारा संघर्ष विराम का उल्लंघन किए जाने से सिपाही बिकास गुरुंग शहीद हो गए हैं।

स्थानीय मीडिया की खबरों के मुताबिक श्रीनगर के अनंतनाग में ईद की नमाज के बाद पत्थरबाजों ने सीआरपीएफ के जवानों पर पथराव कर दिया। उन्होंने आजादी के नारे लगाए और आईएसआईएस के झंडे फहराए गए।

जिसके बाद सीआरपीएफ के जवानों को प्रतिक्रिया देने के लिए मजबूर होना पड़ा। उन्होंने हवाई फायरिंग की, भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए। जिसके बाद पत्थरबाजों ने सड़कों पर टायर जलाकर आगजनी की। इस मामले में कुछ लोगों के घायल होने की खबर है। वहीं एक नागरिक की मौत हो गई है। जिसकी पहचान अनंतनाग के शीराज अहमद के तौर पर हुई है।

उल्लेखनीय है कि राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की मौत के बाद घाटी में तनाव का माहौल है। इसके अलावा भारतीय सेना के जवान औरंगजेब को आतंकियों ने अगवा करके गोली मारकर हत्या कर दी और शव को गूसू गांव में छोड़ दिया। जिसके बाद उनके पिता ने भारत सरकार को 72 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। उनका कहना है कि या तो सरकार उनके बेटे को मारने वाले आतंकियों को मार गिराए वरना वह खुद उनसे लोहा लेंगे।

इसके अलावा सीमा सुरक्षा बलों ने सांबा सेक्टर की चक्का फकीरा पोस्ट के पास बीती रात को पाकिस्तान के दो नागरिकों को हिरासत में लिया है। इनकी पहचान सोहेल कुमार पुत्र मोहमम्द शरीफ निवासी चमाना कलां तहसील जफरवाल, जिला सियालकोट, उम्र 31 साल और दूसरे शख्स की पहचान अहमद पुत्र अल्लारखा निवासी चमाना कलां, उम्र 22 साल के तौर पर हुई है। इनके पास से पाकिस्तानी मुद्रा बरामद हुई है। सुरक्षाबल के अधिकारी इनसे पूछताछ कर रहे हैं कि आखिर वह कैसे क्षेत्र में पहुंचे।

संघर्ष विराम उल्लंघन की वजह से अटारी बॉर्डर पर भी तनातनी का माहौल है। ईद के दिन बीएसएफ और पाकिस्तानी रेंजर्स ने हर बार की तरह इस बार एक दूसरे को मिठाई नहीं दी। कांग्रेस नेता गुलाब नबी आजाद ने कहा, "ईद खुशी का त्योहार है। मैं कश्मीर में अमन-चैन कायम होने की दुआ करता हूं।"

loading...