जो करें मर्दानगी से प्यार तो इन आदतों को करें दरकिनार

 ये 3 चीज़े पुरुषों की मर्दानगी के लिए है खतरा, जरूर जानें

आजकल की लाइफस्टाइल और गलत खानपान की आदतें पुरुषों की यौन क्षमता को प्रभावित करती हैं। आजकल पुरुषों में शुक्राणुओं की कमी बेहद ही कॉमन सी समस्या है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक एक स्वस्थ पुरूष के लिए 1.5 करोड़ प्रति मिलीलीटर से ऊपर शुक्राणुओं की संख्या को सामान्य माना जाता है। विज्ञान में इस बीमारी को ओलिगोस्पर्मिया कहते है। अगर कोई इस बीमारी से ग्रसित होता है तो बच्चे पैदा करने में परेशानी होती है। जानें इसके कारण जिन्हें आपको भूलकर भी नहीं करना चाहिए...

दिनभर लैपटॉप पर काम करना
अक्सर लोग लैपटॉप को अपनी गोद में रखकर काम करने लगते हैं, लेकिन इसका आप पर बहुत बुरा असर पड़ता है। लैपटॉप को गोद में रखकर काम करने से अंडकोषो को अधिक गर्मी पहुंचती है जिस वजह से शुक्राणु बनने की क्रिया बहुत ही कम हो जाती है| इसलिए इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि अंडकोष को गर्म चीजो के संपर्क में ना लाये जैसे गर्म पानी से नहाना या लैपटॉप गोद में रखकर काम करना।

अवैध नशीली दवाओं का इस्तेमाल
कोकीन या गांजा जैसे नशीले पदार्थों के सेवन से पुरुषों के शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में कमी आ सकती है। इसलिए कोकीन या गांजा जैसी नशीली पदार्थों का सेवन ना करें।

एक्स-रे
एक्स-रे से पुरुषों की शुक्राणु उत्पादन में कमी आ सकती है | इसलिए जब तक कोई इमरजेंसी ना हो तब तक एक्स-रे से बचना चाहिए।

loading...