14 जनवरी मकर संक्रांति : जानें पौराणिक मान्यता, किस मुहूर्त में करें स्नान

 14 जनवरी मकर संक्रांति : जानें पौराणिक मान्यता, किस मुहूर्त में करें स्नान

14 जनवरी को माघ महीने में मकर संक्रांति त्यौहार मनाया जाता है, लेकिन इस बार 14 और 15 जनवरी दोनों ही दिन हैं. दोनों ही दिन शुभ हैं. इस दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करते हैं. सूर्य पूर्व से उत्तर दिशा की ओर जाने लगते हैं, तब सूर्य की किरणें सेहत और शांति को बढ़ा देती हैं. 

पौराणिक महत्व: पौराणिक मान्यता के अनुसार, मकर संक्रांति के दिन सूर्य देव अपने पुत्र शनि के घर जाते हैं. इस लिहाज से मकर संक्रांति पिता और पुत्र के अनोखे मिलन को बताता है. वहीँ दूसरी तरफ मकर संक्रांति के दिन ही भगवान विष्णु ने पृथ्वी लोक पर असुरों का वध कर उनके सिरों को काटकर मंदरा पर्वत पर गाड़ दिया था. तभी से भगवान विष्णु की इस जीत को मकर संक्रांति पर्व के तौर पर मनाया जाने लगा.

स्नान मुहूर्त : मकर संक्रांति इस बार सर्वार्थ सिद्धि योग में बन रहा है. सूर्य रात 8 बजे के आसपास मकर राशि में 14 जनवरी को प्रवेश करेंगे जिससे इस बार दो दिन तक संक्रांति का योग बन रहा है. 15 जनवरी को स्नान व दान का विशेष महत्व बताया जा रहा है.

loading...