जापान में गर्भवती होने के लिए लेनी पड़ती है कंपनी के मालिक से परमिशन

 जापान में गर्भवती होने के लिए लेनी पड़ती है कंपनी के मालिक से परमिशन, वरना भुगतना पड़ता है अंजाम

एक औरत के पूरे होने का एहसास होता है ‘माँ बनना’. जो औरत माँ नहीं बन पाती उसके लिए ज़िन्दगी और भी दूभर हो जाता है. लेकिन जापान ऐसा देश है जहाँ इसे लेकर और भी कई तरीके के नियम और कायदे-क़ानून हैं. जापान की कम्पनियों ने महिला वर्कर्स को आदेश दिया है कि वे प्रेगनेंट होने से पहले बॉस की अनुमति अवश्य लें. निर्देश के मुताबिक, महिला कर्मचारियों को शादी करने या प्रेग्नेंट होने से पहले कम्पनी की अनुमति लेनी होगी. 

कंपनी के नियम के अनुसार वरिष्ठता के हिसाब से यह तय किया जाता है कि कौन सा कर्मचारी पहले शादी करेगा. 

जी हाँ...मामला तब सामने आया जब नर्सरी में काम करने वाली एक महिला कर्मचारी के पति ने इस बात का खुलासा किया कि उसकी पत्नी को उसका बॉस इसलिए ताने दे रहा है, क्योंकि वह प्रेगनेंट हो गई. मुझे और मेरी पत्नी को इसके लिए माफी मांगनी पड़ी कि बिना मंजूरी के वो गर्भवती हो गई. डायरेक्टर ने बहुत गुस्सा करने के बाद हमारी माफी मानी, मगर उसके अगले दिन से ही वह मेरी पत्नी को ताने दे रहा है.

पति ने जिस चाइल्ड केयर सेंटर में उसकी पत्नी काम करती है वहां के और कर्मचारियों के साथ हो रहे बुरे बर्ताव के बारे में कई जानकारी दी हैं. उसने बताया कि उसकी पत्नी कार्य करती है वहां के सभी कर्मचारियों को ये तुगलकी फरमान दे रखा है कि, किसी भी कर्मचारी को शादी करने और प्रेगनेंट होने से पहले इजाजत लेनी होगी.

माँ बनना या ना बनना हमारी इच्छा पर निर्भर करता है. इसके लिए हमें किसी बाहर वाले से परमिशन लेने की आवश्यकता नहीं होती. लेकिन जापान के इस तुगलकी फरमान के बाद पता चला कि इस तरह के क़ानून भी होते हैं. 

loading...