पवित्र महीने में नहीं होगा कोई सर्च ऑपरेशन, मुफ़्ती सरकार की बात मान किया केंद्र ने फैसला

 जम्मू-कश्मीर : रमजान के मद्देनजर केंद्र का फैसला, नहीं होगा आतंकियों के खिलाफ  कोई सर्च ऑपरेशन

रमजान को देखते हुए केंद्र सरकार ने एक बड़ा एलान किया है. असल में, जम्मू-कश्मीर में सेना के ऑपरेशन को कुछ समय के लिए टाल दिया है. यहाँ सर्च ऑपरेशन में थोड़ी सी ढिलाई दी गयी है. सूबे की चीफ मिनिस्टर महबूबा मुफ्ती की मांग पर केंद्र सरकार ने ये आदेश दिया है. 

भारत में 18 मई से रमजान की शुरुआत हो रही है, जिसे देखते हुए सीएम महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार से ये मांग की थी. 

इसलिए गृह मंत्रालय की तरफ से एक ट्वीट में ये लिखा गया है कि किसी आतंकी हमले की स्थिति में ये शर्त लागू नहीं होगी लेकिन सूबे में सेना की कार्रवाई (ऑपरेशन) पर पूरे रामजान के दौरान ढिलाई बर्ती जाएगी इस फैसले का ये मतलब नहीं है कि किसी भी सुरक्षा लिहाज से भारतीय सेना अपनी चौकसी कम कर देगी बल्कि स्थानीय कार्रवाइयों में थोड़ी ढील जरूर रहेगी. इस फैसले के जरिए एक कोशिश ये संदेश देने की भी है कि रमजान के पवित्र महीने में इंसान अपने गलत काम छोड़ सही रास्ता अख्तियार करे. किसी भी सूरत में भारतीय सेना आतंकियों के हौसले बढ़ने नहीं देगी. हां ये कोशिश जरूर करेगी कि खून-खराबे से जितना बचा जा सके, अच्छा है. 

केंद्र की इस फैसले की सब जगह तारीफ हो रही है पर हाल ही के दिनों में हुई आतंकी गतिविधियों को देखते हुए उन्हें सजग रहने को जरूर कहा गया है. 

loading...