बाजार में आया आयुर्वेदिक अंडा, बिक रहा 5 गुना ज्‍यादा कीमत पर

 जानें क्‍या है ऐसा खास जो बिक रहा 5 गुना ज्‍यादा कीमत पर यह अंडा

आपने अंडे तो बहुत खाए होंगे. कभी उबला अंडा तो कभी ऑमलेट बनाकर. कुछ लोगों को एग करी पसंद आती है तो कुछ अंडे की भुजरी बनाकर खाते हैं. भांति-भांति के लोग अलग-अलग तरह से अंडे खाते हैं. यह तो हो गई अंडे को खाने की बात, लेकिन उसकी कीमत भी बाजार में भिन्‍न-भिन्‍न प्रकार की है. दरअसल, अंडे की कीमत इस बात पर निर्भर करती है कि वह कैसी दुकान और पैकिंग में उपलब्‍ध है. इसके अलावा उसकी क्‍वालिटी भी काफी हद तक उसकी कीमत निर्धारित करती है. बाजार में 4 से लेकर 7 रुपये तक की कीमत वाले अंडे उपलब्‍ध हैं.

लेकिन हम आपको यहां एक ऐसे अंडे के बारे में बता रहे हैं जो हाल ही में बाजार में लॉन्‍च हुआ है और एक अंडे की कीमत 22.50 रुपये है. जी हां, अंडे की कीमत पढ़कर आपकी आंखे जरूर थोड़ी और बड़ी हो गई होंगी. पर यह बात बिल्‍कुल सही है. हम जिस अंडे की बात कर रहे हैं, वह कोई मामूली मुर्गी का अंडा नहीं है. बल्‍क‍ि वह आयुर्वेदिक मुर्गी का आयुर्वेदिक अंडा है.

बाजार में जहां सामान्‍य मुर्गी की कीमत 200 रुपये किलोग्राम है, वहीं इस आयुर्वेदिक मुर्गी की कीमत 480 रुपये प्रति किलोग्राम है. दरअसल, इन आयुर्वेदिक अंडों और मुर्गियों की कीमत उनमें मौजूद पोषक तत्‍वों और औषधीय गुणों को ध्‍यान में रखते हुए तय की गई है. आयुर्वेदिक अंडे जहां दक्ष‍िण भारत के कई राज्‍यों में उपलब्‍ध हैं, वहीं आयुर्वेदिक मुर्गियों का मीट सिर्फ हैदराबाद में उपलब्‍ध है.

आयुर्वेदिक अंडों को चिन्ना हर्षवर्धन रेड्डी नाम के एक व्‍यक्‍त‍ि ने तैयार किया है. चिन्ना हर्षवर्धन रेड्डी ने अमेरिका से MBA की पढ़ाई की और सौभाग्‍य ग्रुप के नाम से पोल्‍ट्री बिजनेस शुरू किया. चिन्ना हर्षवर्धन रेड्डी मूल रूप से आंध्र प्रदेश के रवुलापडू गांव के रहने वाले हैं. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो सौभाग्‍य ग्रुप के प्रमुख रेड्डी ने आयुर्वेदिक अंडे बनाने से पहले 6 साल तक इस पर गहन शोध किया.

इन अंडों को तेलगु राज्‍यों के साथ-साथ बेंगलुरु में भी लॉन्‍च कर दिया गया है. ज्‍यादा कीमत होने के बावजूद यह अंडा हाथों हाथ बिक रहा है. जहां सामान्‍य अंडा सफेद रंग का होता
है, वहीं सौभाग्‍य द्वारा तैयार किया गए इस अंडे का रंग गुलाबी है. पोल्‍ट्री फॉर्म्‍स में मुर्गियों को स्‍टेरॉयड्स, हार्मोन्‍स और एंटी-बायोटिक्‍स का इंजेक्‍शन दिया जाता है. ताकि वे स्‍वस्‍थ रहें और बड़ें अंडे दें. लेकिन सौभाग्‍य हैतचेरी की पक्ष‍ि‍यों को पोषक तत्‍वों से युक्‍त आयुर्वेदिक भोजन दिया जाता है. इन मुर्गियों को जो भोजन दिया जाता है, उसमें लहसुन, हल्दी और 40 आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का मिश्रण प्रमुख है. इन मुर्ग‍ियों को मिनरल वॉटर पिलाया जाता है.

दरअसल, सौभाग्‍य द्वारा बनाए जाने वाले आयुर्वेदिक अंडों के भी दो प्रकार हैं. पहला आयूर प्‍लस और दूसरा देसी मुर्गी के अंडे. आयूर प्‍लस मुर्गियों के प्रति अंडे की कीमत 12.50 रुपये है, जबकि देसी मुर्गी के प्रति अंडे की कीमत 22.50 रुपये है.

बढ़ते बच्‍चों के लिए अंडे का सेवन लाभकारी माना जाता है. अंडा खाने से हड्ड‍ियां मजबूत होती हैं. इससे मानसिक ताकत बढ़ती है और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. यहां तक कि आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी इसे कारगर पाया गया है. यह बच्‍चों को एनिमीया और पोषक तत्‍वों की कमी से भी बचाता है. आयुर्वेदिक अंडो के लिए दावा किया जा रहा है कि इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है. इसमें कैरोटोनॉइड्स, विटामिन डी3, विटामिन ई और आयरन भी है. सामान्‍य अंडों के मुकाबले आयुर्वेदिक अंडे की उम्र ज्‍यादा है. कंपनी का कहना है कि इसे खाने से ब्रेस्‍ट कैंसर का खतरा कम होता है.

loading...