इंदौर: DPS स्कूल बस और ट्रक में टक्कर, ड्राइवर सहित 5 बच्चों की मौत

 DPS की बस ट्रक से जा भिड़ी, 5 स्टूडेंट्स और ड्राइवर की मौत, 10 गंभीर

इंदौर के कनाडिया रोड पर डीपीएस की स्कूल बस और ट्रक के बीच हुई भीषण टक्कर में पांच स्कूली छात्रों की मौत हो गई है और छह गंभीर रूप से घायल हैं। घायलों को तुरंत बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंचा दिया गया है। बताया जा रहा है कि स्कूल बस की स्टीयरिंग फेल हो गई थी, जिस कारण उसकी टक्कर तेज रफ्तार ट्रक से हो गई। दुर्घटना की भीषणता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि स्कूल बस का अगला हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। घटना के बाद बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंचे शहर के एसपी क्राइम ब्रांच मनोज राय ने बताया कि 5 बच्चों की मौत अस्पताल में हुई, जबकि ड्राइवर ने भी घटनास्‍थल पर ही दम तोड़ दिया था।

जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार शाम को डीपीएस स्कूल में छुट्‌टी के बाद बस बच्चों को लेकर आ रही थी। बस जैसे ही बायपास पर पहुंची सामने से आ रहे एक ट्रक से उसकी टक्कर हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि बस के अगले हिस्से के परखच्चे उड़ गए। हादसे के बाद बच चालक स्टेयरिंग पर फंस गया था और उसने वहीं पर दम तोड़ दिया। टक्कर के असर से कई बच्चे एक-दूसरे के ऊपर गिर गए।

हादसे के बाद आसपास गुजर रहे लोगों ने पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी। परिजनों को जैसे ही इस हादसे की जाानकारी मिली तो जो जिस हाल में था वैसे ही घटनास्थल की ओर दौड़ पड़ा। घटना के बाद कमिश्नर संजय दुबे, एडीजी अजय शर्मा, डीआईजी सहित कई अफसर बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंच गए। यहां परिजनों ने आरोप लगाया कि परिजनों का कहना है कि हादसे की सूचना स्कूल प्रबंधन ने नहीं दी।

एमपी के स्कूल शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने कहा, "इस तरह के हादसे कहीं न कहीं सरकारी नीतियों में चूक के कारण हो रहे हैं। ऐसे मामलों को दंडात्मक प्रावधान में लाएंगे और संबंधित स्कूल की जिम्मेदारी तय होगी। अब तक स्कूल इससे बच जाते थे। हादसा बेहद दुखद है और दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।"

मध्य प्रदेश के गृह व परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने घटना के जांच के आदेश दिए हैं। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा 'इंदौर में हुई सड़क दुर्घटना में स्कूली बच्चों के निधन का समाचार हृदय विदारक है। मन अत्यधिक पीड़ा से भरा है। ईश्वर से मासूम बच्चों की आत्मा को अपने चरणों में स्थान देने की प्रार्थना करता हूं। विनम्र श्रद्धांजलि!  इंदौर में सड़क दुर्घटना में हताहत हुए मासूम बच्चों की आत्मा की शांति और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना करता हूं। दु:ख की इस घड़ी में परिवार स्वयं को अकेला न समझे, मैं और प्रदेश की साढ़े सात करोड़ जनता साथ है।' 

loading...